Home Blog Page 4587

Infinix Hot 10 With Quad Rear Cameras Launched in India

0


Infinix Hot 10 has been launched as the successor to the Infinix Hot 9 that debuted in late May. The new smartphone comes with a hole-punch display design and features dual selfie flashlights at front. The Infinix Hot 10 also comes with a 91.5 percent screen-to-body ratio as well as DTS-HD Surround Sound. Additionally, the phone comes with a Power Marathon technology that is touted to keep it operational even after heavy usage and deliver 25 percent of additional battery life. The Infinix Hot 10 also flaunts four distinct colour options.

Infinix Hot 10 price in India

Infinix Hot 10 price in India has been set at Rs. 9,999 for the lone, 6GB RAM + 128GB storage variant. The phone comes in Amber Red, Moonlight Jade, Obsidian Black, and Ocean Wave colour options. Moreover, it will be available for purchase via Flipkart starting 12pm (noon) on October 16, which will be during the Flipkart Big Billion Days sale.

Last month, the Infinix Hot 10 was launched in Pakistan with a starting price of PKR 20,999 (roughly Rs. 9,300) for the base 4GB RAM + 64GB storage variant. The 6GB RAM + 128GB storage option, on the other hand, debuted at PKR 23,999 (roughly Rs. 10,700).

Infinix Hot 10 specifications

The dual-SIM (Nano) Infinix Hot 10 runs on Android 10 with XOS 7 on top and features a 6.78-inch HD+ (720×1,640 pixels) IPS display with a 20.5:9 aspect ratio and 480 nits of peak brightness. Under the hood, there is an octa-core MediaTek Helio G70 SoC, paired with an ARM Mali-G52 GPU and 6GB of RAM. The smartphone also comes with a quad rear camera setup that houses a 16-megapixel primary sensor with an f/1.85 lens, 2-megapixel depth sensor, and a 2-megapixel macro shooter. Further, the camera setup includes a dedicated low light sensor.

For selfies, the Infinix Hot 10 offers an 8-megapixel camera sensor at the front, with an f/2.0 lens. There are also the dual selfie LED flashlights at the front to enhance lighting in your self-portraits and video chats. Additionally, the phone comes preloaded with artificial intelligence (AI) backed features such as AI HDR, AI Portrait, AI 3D Face Beauty, Wide Selfie, and an AR Animoji.

The Infinix Hot 10 comes with 128GB of onboard storage that is expandable via microSD card (up to 256GB) through a dedicated slot. Connectivity options include 4G VoLTE, Wi-Fi 802.11 a/b/g/n, Bluetooth v5.0, GPS/ A-GPS, USB, and a 3.5mm headphone jack. Sensors on board include an accelerometer, ambient light, gyroscope, and a proximity sensor. There is also a fingerprint sensor at the back of the phone.

Infinix has provided a 5,200mAh battery that supports 18W fast charging and is rated to deliver up to 23 hours of video playback on a single charge. Besides, the Hot 10 measures 171.1×77.6×8.88mm and weighs 204 grams.


Why are smartphone prices rising in India? We discussed this on Orbital, our weekly technology podcast, which you can subscribe to via Apple Podcasts, Google Podcasts, or RSS, download the episode, or just hit the play button below.

Affiliate links may be automatically generated – see our ethics statement for details.



Source link

9 हजार से भी कम है इस 5000mAh बैटरी वाले फोन की कीमत, कैमरा और लुक दोनों दमदार

0


CNN name, logo and all associated elements ® and © 2017 Cable News Network LP, LLLP. A Time Warner Company. All rights reserved. CNN and the CNN logo are registered marks of Cable News Network, LP LLLP, displayed with permission. Use of the CNN name and/or logo on or as part of NEWS18.com does not derogate from the intellectual property rights of Cable News Network in respect of them. © Copyright Network18 Media and Investments Ltd 2016. All rights reserved.





Source link

IPL 2020: जानिए फाफ डुप्लेसी के साथ पार्टनरशिप पर क्या बोले शेन वॉटसन

0


दुबई: शेन वॉटसन (Shane Watson) और फाफ डु प्लेसी (Faf du Plessis) ने रविवार को चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के खिलाफ 10 विकेट से जीत दिलाई. दोनों बल्लेबाज नाबाद रहे. वॉटसन को अपनी पारी के लिए ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया. मैच के बाद वॉटसन ने कहा कि वो और फाफ बल्लेबाजी में एक दूसरे को समझते हैं और साथ देते हैं. पंजाब ने दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए मैच में चेन्नई को 178 रनों का लक्ष्य दिया था और चेन्नई ने बिना विकेट खोए यह लक्ष्य हासिल कर लिया.

यह भी पढ़ें- IPL 2020 में जलवा बिखेर रही हैं ये Anchors, नजरें हटा नहीं पाएंगे आप

चेन्नई की जीत के हीरो वॉटसन और फाफ डु प्लेसी रहे. वॉटसन ने नाबाद 83 और डु प्लेसी नाबाद 87 रन बनाए. दोनों ने समान 53 गेंदें खेलीं और चौके भी 11-11 मारे. वॉटसन छक्के मारने में डु प्लेसी से आगे रहे। वाटसन ने तीन तो डु प्लेसी ने एक छक्का मारा.

वाटसन ने मैच के बाद डु प्लेसी के साथ बल्लेबाजी करने पर कहा, ‘हम एक दूसरे को अच्छी तरह से समझते हैं. कुछ गेंदबाज हैं जिन्हें खेलना डु प्लेसी को पसंद है. वो शानदार खिलाड़ी हैं. उनके साथ बल्लेबाजी कर अच्छा लगता है.’

वॉटसन बीते 4 मैचों में बड़ी पारी नहीं खेल पा रहे थे. उन्होंने कहा कि कहीं कुछ तकनीकी रूप से गड़बड़ी थी. फ्रेंचाइजी के साथ काफी सारा तजुर्बा होने और फ्रेंचाइजी को जो सफलता मिली है, उसके कारण वह खिलाड़ियों पर भरोसा करती है. हम जानते थे कि हमें कुछ चीज अच्छी करनी होगी.

वॉटसन ने कहा, ‘मुझे लग रहा था कि कहीं कुछ थोड़ी बहुत गड़बड़ी है, तकनीकी रूप से. इसलिए इस तरह की पारी खेलना अच्छी बात है. मैं गेंद पर अपने वजन को अच्छी तरह से इस्तेमाल कर रहा था.’
(इनपुट-आईएएनएस)





Source link

IPL 2020, RCB vs DC: श्रेयस अय्यर के सामने आज होगी विराट की चुनौती

0


नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) में सोमवार (5 अक्टूबर) को दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) और दिल्ली कैपिटल्स (DC) की आमने-सामने होंगी. दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) ने जहां एक तरफ चारों मैचों में अच्छी परफॉर्मेंस दी है. वहीं, दूसरी तरफ आरसीबी के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ अर्धशतक जड़कर फॉर्म में वापसी की. इससे पहले विराट ने तीन मैचों में मात्र 18 रन बनाए थे, लेकिन राजस्थान के खिलाफ उन्होंने शानदार 72 रनों की पारी खेली.

ऐसे में आज श्रेयस अय्यर की कुशल कप्तानी के सामने अनुभवी विराट कोहली की रणनीतिक चालों का भी आज टेस्ट होगा. आरसीबी और दिल्ली दोनों की टीमें अभी तक के टूर्नामेंट में मजबूत नजर आ रही हैं. दोनों ही टीमों ने अबतक चार मैच खेले हैं, इनमें दोनों ने ही तीन-तीन मैचों में जीत दर्ज की है. ऐसे में आज दोनों टीमों की कोशिश होगी कि मैच जीतकर प्वॉइंट टेबल में ऊपर आएं.

श्रेयस अय्यर कर रहे लगातार परफॉर्म
श्रेयस अय्यर ने शनिवार को कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ एक बार फिर शानदार पारी खेलकर अपनी अहमियत बताई. उन्होंने 38 गेंदों में शानदार 88 रनों की पारी खेली थी. इस मैच में अय्यर से पहले पृथ्वी शॉ ने भी 66 रनों की पारी खेली. अय्यर और शॉ की पारी के दम पर दिल्ली ने केकेआर को मैच में 18 रनों से मात दी थी.IPL 2020: टू्र्नामेंट के 15 दिन पूरे, जानिए क्या है आपकी पसंदीदा टीमों की स्थिति

फॉर्म मे लौट आए हैं विराट कोहली
वहीं, दूसरी तरफ शनिवार को ही खेले गए पहले मैच में विराट कोहली ने लगातार तीन मैचों में फ्लॉप होने के बाद 53 गेंदों पर नाबाद 72 रनों की कप्तानी पारी खेली. इस मैच में विराट कोहली अपने पुराने रंग में नजर और टीम को 8 विकेट से आसान जीत दिलाई. दोनों ही कप्तान पिछले मैच में फॉर्म में थे और दोनों ही टीमें भी पूरे जोश में थी. ऐसे में इन दोनों के बीच होने वाले मुकाबले के रोमांचक होने की पूरी उम्मीद है.

दिल्ली कैपिटल्स की ताकत और कमजोरी
दिल्ली के शीर्ष क्रम में पृथ्वी शॉ अच्छी फॉर्म में हैं, लेकिन शिखर धवन की फॉर्म चिंता की वजह है. ऋषभ पंत ने केकेआर के खिलाफ 17 गेंदों पर 38 रनों की पारी खेलकर अपनी आक्रामकता की झलक दिखाई. इसके अलावा टीम के पास मार्कस स्टोइनिस और शिमरोन हेटमायर जैसे आक्रामक बल्लेबाज भी हैं. गेंदबादी की बात करें तो कागिसो रबाडा ने दिल्ली की गेंदबाजी की कमान अच्छी तरह से संभाले हुए हैं. एनरिच नोर्टजे ने शुरुआती और डेथ ओवरों में दिल्ली की तरफ से शानदार भूमिका निभाई है।

आरसीबी की ताकत और कमजोरी
आरसीबी की तरफ से युवा देवदत्त पडीक्कल ने टॉप ऑर्डर में शानदार परफॉर्म किया है. उन्होंने अब तक चार मैचों में तीन अर्धशतक की मदद से 174 रन बनाए हैं। आरोन फिंच भी बड़ी पारी खेलने वाले खिलाड़ी हैं. इन दोनों के बाद फिर विराट और एबी डिविलियर्स हैं. अगर ये खिलाड़ी परफॉर्म करते हैं तो आरसीबी को हराना काफी मुश्किल होगा. इसुरु उडाना ने आरसीबी के गेंदबाजी विभाग में जुड़ने के बाद प्रभावित किया है, जिसमें नवदीप सैनी और दोनों स्पिनर वाशिंगटन सुंदर और युजवेंद्र चहल अच्छी भूमिका निभा रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया के एडम जाम्पा हालांकि अभी तक परिस्थितियों से सामंजस्य नहीं बिठा पाए हैं।

DC vs RCB, IPL 2020: फॉर्म में विराट और अय्यर, देखने को मिलेगी कड़ी टक्कर

दोनों टीमें इस प्रकार हैं :
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर : विराट कोहली (कप्तान), एबी डिविलियर्स, पार्थिव पटेल, आरोन फिंच, जोश फिलिप, क्रिस मॉरिस, मोइन अली, मोहम्मद सिराज, शाहबाज अहमद, देवदत्त पडीक्कल, युजवेंद्र चहल, नवदीप सैनी, डेल स्टेन, पवन नेगी, इसुरु उडाना, शिवम दुबे, उमेश यादव, गुरकीरत सिंह मान, वाशिंगटन सुंदर, पवन देशपांडे, एडम जाम्पा.

दिल्ली कैपिटल्स : श्रेयस अय्यर (कप्तान), रविचंद्रन अश्विन, शिखर धवन, पृथ्वी शॉ, शिमरोन हेटमायर, कागिसो रबाडा, अजिंक्य रहाणे, अमित मिश्रा, ऋषभ पंत, इशांत शर्मा, अक्षर पटेल, संदीप लमिछाने, कीमो पॉल, डेनियल सैम्स, मोहित शर्मा, एनरिक नार्जे, एलेक्स कैरी, अवेश खान, तुषार देशपांडे, हर्षल पटेल, मार्कस स्टोइनिस, ललित यादव.





Source link

रोज सुबह नींबू पानी पीने से होते हैं ये 5 बड़े फायदे

0


नई दिल्ली: नींबू स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है. इसके साथ ही शरीर के लिए नींबू पानी (lemon water) भी काफी उपयोगी साबित होता है. हर दिन सुबह नींबू पानी पीने से आपका पाचन तंत्र हेल्दी (healthy digestion) रहता है और आप पेट संबंधित कई समस्याओं से बचे रहते हैं. नींबू विटामिन सी और बी, कैल्शियम, मैग्नीशियम, कार्बोहाइड्रेट जैसे औषधीय गुणों से भरपूर होता हैं. जो आपको अपच, पेट की गड़बड़ी, डायबिटीज और लीवर जैसी समस्याओं से छुटकारा दिलाने में बहुत फायदेमंद होता है, तो आइए आज हम आपको हर सुबह नींबू पानी के फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं (lemon water benefits).

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए है कारगर 
नींबू में विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है. इसके कारण शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद मिलती है. रोज सुबह खाली पेट नींबू पानी पीने से रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जा सकता है. कई ऐसी ड्रिंक्स हैं जो इम्यूनिटी (immunity) को बढ़ा सकती हैं लेकिन यह सबसे आसान और किफायती इम्यूनिटी बूस्टर (immunity booster) ड्रिंक है.

पाचनतंत्र को दुरुस्‍त रखें
नींबू में हाइड्रोक्लोरिक नामक एसिड पाए जाने के कारण यह आपके पाचन तंत्र को दुरुस्त रखता है. इसके साथ ही यह एसिडिटी और गठिया के खतरे को भी कम करने में भी सहायक होता है. जो लोग पाचन संबंधी समस्याओं जैसे जलन और गैस की समस्या आदि से परेशान रहते  हैं, उन्हें हर रोज सुबह नींबू पानी का सेवन करना चाहिए. इसमें मौजूद विटामिन सी शरीर में अल्सर को बनने से बचाता है.

ये भी पढ़ें, बीमारियों को रखना है कोसो दूर तो दही में मिलाकर इन चीजों का करें सेवन

वजन कम करने में मिलेगी मदद
बढ़े हुए वजन से परेशान हैं तो नींबू पानी वजन कम करने में काफी सहायता करेगा. दरअसल, नींबू में पाया जाने वाला पेक्टिन फाइबर शरीर को भूख महसूस नहीं होने देता. जिसके कारण व्यक्ति असमय स्नैक्स इत्यादि नहीं खाता. इससे वजन को कम करने में मदद मिलती है. वहीं नींबू पानी शरीर से विषैले तत्वों को बाहर निकालकर वजन कम करने में मददगार साबित होता है.

किडनी स्टोन से बचाए
रोज सुबह नींबू पानी का सेवन करने से आप किडनी स्‍टोन के खतरे से बचे रहते हैं. नींबू पानी शरीर हाइड्रेटिड रखता है, जिससे यूरीन को पतला रखने में मदद मिलती है.

डायबिटीज में लाभकारी
नींबू पानी को हाई ब्लड शुगर वाले ड्रिंक और जूस का बेहतर विकल्‍प माना जाता है. ये विशेषकर उन लोगों के लिए बहुत अच्छा है जो डायबिटीज से जूझ रहे हैं. यह आपके शरीर को शुगर के गंभीर स्तर तक पहुंचाए बिना हाइड्रेट रखता है.

सेहत की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

(नोट: कोई भी उपाय अपनाने से पहले डॉक्टर्स की सलाह जरूर लें) 

VIDEO





Source link

Poco C3 के लॉन्च से पहले कंपनी ने किया कीमत का खुलासा, इस फोन को देगा टक्कर

0


स्मार्टफोन कंपनी Poco अपना नया स्मार्टफोन Poco C3 भारत में जल्द लॉन्च करेगी. बताया जा रहा है कि ये फोन 6 अक्टूबर यानी कल लॉन्च किया जाएगा. वहीं इस फोन की लॉन्चिंग से पहले इसकी कीमत का खुलासा हो गया है. कंपनी ने खुद बताया है कि इस फोन की कीमत 10,000 से कम होगी. इसके साथ ही पोको के इस फोन से जुड़ी कुछ अन्य जानकारियां भी सामने आई हैं.

कंपनी ने बताई कीमत

कंपनी ने Poco C3 की बिल्कुल सही कीमत तो नहीं बताई लेकिन इस बात का इशारा किया है कि फोन 10 हजार से कम की कीमत में मिलेगा. कंपनी ने अपने ट्वीट में लिखा, ’10 हजार से कम में गेम चेंजर 6 अक्टूबर को दोपहर 12 बजे फ्लिपकार्ट पर आ रहा है.’ कंपनी ने दावा किया हैकि फोन गेमिंग और मल्टीटास्किंग करते समय शानदार परफॉर्मेंस और एक्सपीरियंस देगा.

डिस्प्ले और डिजाइन

लीक रिपोर्ट्स के मुताबिक Poco C3 स्मार्टफोन शाओमी के Redmi 9C का ही रीब्रैंडेड वर्जन होगा. फोन में 6.53 इंच का HD+ डिस्प्ले दिया जा सकता है. वहीं इसमें प्लास्टिक बैक पैनल दिया होगा. फोन में ट्रिपल रियर कैमरा सेंसर और एक एलईडी फ्लैश दी जा सकती है. वहीं स्मार्टफोन 4 जीबी की रैम, मीडियाटेक हीलियो G35 प्रोसेसर से लैस हो सकता है. Poco C3 में 5,000mAh की दमदार बैटरी दी जा सकती है, जो 10वॉट चार्जिंग सपॉर्ट करेगी. इसमें रियर फेसिंग फिंगरप्रिंट सेंसर ऑप्शन दिया जा सकता है.

कैमरा

Poco C3 में ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप दिया जा सकता है. इसमें 13 मेगापिक्सल का प्राइमरी सेंसर, एक मेक्रो सेंसर और एक डेप्थ सेंसर दिया होगा. सेल्फी के लिए इसमें 5 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा दिया जा सकता है.

Vivo U10 से होगा मुकाबाल

Poco C3 का मुकाबला भारतीय बाजार में Vivo U10 से होगा. इस स्मार्टफोन की कीमत 9,990 रुपये है. इसमें एचडी+ IPS 6.35 का टचस्क्रीन डिस्प्ले दिया गया है, जिसका स्क्रीन-टू-बॉडी रेशियो 81.91 प्रतिशत है. इसमें ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप दिया गया है. 13 मेगापिक्सल का सेंसर, 8 मेगापिक्सल का वाइड एंगल लेंस और 2 मेगापिक्सल पोर्ट्रेट शॉट्स है. 8 मेगापिक्सल का सेल्फी कैमरा भी है. इसमें 5000 की बैटरी है, जो कि 18 वाट की फास्ट चार्जिंग सपोर्ट करती है.

₹ 10990

Vivo U10 Full Specifications

जनरल
रिलीज डेट 2019 September
भारत में लॉन्च Yes
फॉर्म फैक्टर Touch
बॉडी टाइप Glass front, plastic back, plastic frame
डायमेंशन्स (एमएम) 159.4 x 76.8 x 8.9 mm (6.28 x 3.02 x 0.35 in)
वजन (ग्राम) 190.5 g (6.74 oz)
बैटरी कैपिसिटी (एमएएच) Li-Po 5000 mAh battery
रिमूवेबल बैटरी Non removable
फास्ट चार्जिंग Fast charging 18W
वायरलेस चार्जिंग No
कलर्स Electric Blue, Thunder Black
नेटवर्क
2जी बैंड GSM 850 / 900 / 1800 / 1900 – SIM 1 & SIM 2
3जी बैंड HSDPA 850 / 900 / 2100
4जी/एलटीई बैंड 1, 3, 5, 8, 28, 38,40, 41
डिस्पले
टाइप IPS LCD capacitive touchscreen, 16M colors
साइज 6.35 inches, 99.6 cm2 (~81.4% screen-to-body ratio)
रेसॉल्यूशन 720 x 1544 pixels (~268 ppi density)
प्रोटेक्शन NA
सिम स्लॉट
सिम टाइप Nano
नंबर ऑफ सिम Dual SIM (Nano-SIM, dual stand-by)
स्टैंड-बाई Dual SIM and Dual Standby
प्लेटफॉर्म
ओएस Android 9.0 (Pie), Funtouch 9.1
प्रोसेसर Octa-core (4×2.0 GHz Kryo 260 Gold & 4×1.8 GHz Kryo 260 Silver)
चिपसैट Qualcomm SDM665 Snapdragon 665 (11 nm)
जीपीयू Adreno 610
मैमोरी
रैम 3GB
इंटरनल स्टोरेज 32/64GB
कार्ड स्लॉट टाइप microSDXC (dedicated slot)
एक्सपेंडेबल स्टोरेज NA
कैमरा
रियर कैमरा 13MP+8MP+2MP
रियर ऑटोफोकस NA
रियर फ्लैश LED flash, HDR, panorama
फ्रंट कैमरा 8MP
फ्रंट ऑटोफोकस NA
वीडियो क्वालिटी 1080p@30fps
साउंड
लाउडस्पीकर Yes
3.5 एमएम जैक Yes
नेटवर्क कनेक्टिविटी
डबल्यूलैन Wi-Fi 802.11 a/b/g/n/ac, dual-band, Wi-Fi Direct, hotspot
ब्लूटूथ 5.1, A2DP, LE, aptX HD
जीपीएस Yes, with A-GPS, GLONASS, GALILEO, BDS
रेडियो FM Radio
यूएसबी microUSB 2.0, USB On-The-Go
सेंसर्स
फिंगरप्रिंट सेंसर Fingerprint (rear-mounted)
कंपास/मैग्नोमीटर compass
प्रॉक्सीमिटी सेंसर Proximity sensor
एक्स्लोरेमीटर Accelerometer

ये भी पढ़ें

Motorola का फोल्डेबल फोन Razr 5G भारत में आज होगा लॉन्च, इस फोन से होगा मुकाबला

लेटेस्ट OS Android 11 के साथ भारत में इस तारीख को लॉन्च होग Vivo V20, इससे होगी टक्कर



Source link

SMIC Has Had ‘Preliminary Exchanges’ With US Over Export Restrictions

0


Chinese chipmaker Semiconductor Manufacturing International Corporation (SMIC) has undertaken “preliminary exchanges” with the US Bureau of Industry and Security regarding export restrictions, the company said on Sunday in a filing.

“The Company is conducting assessments on the relevant impact of such export restrictions on the company’s production and operation activities,” the filing to the Hong Kong Stock Exchange said.

SMIC also said it has been operating in compliance with the relevant laws and regulations of all jurisdictions where it performs its businesses.

The company also advised shareholders and potential investors “to exercise caution when dealing in the securities of the Company.”

In September, Reuters reported that the Bureau of Industry and Security under the Department of Commerce had issued letters informing certain companies they must henceforth obtain a license before continuing to supply goods and services to SMIC.

The letter stated that exports to SMIC “may pose an unacceptable risk of diversion to a military end use” to China.

Such measures recalled those imposed by the Department of Commerce on Huawei, the Shenzhen-based maker of smartphones and networking equipment.

At the time of the reports, SMIC said it had not received any notice from the Department of Commerce regarding the reported restrictions and said it had no relationship with China’s military.

SMIC is China’s largest semiconductor foundry, though it trails behind Taiwan Semiconductor Manufacturing, the global market leader.

Both companies rely heavily on equipment from companies based in the United States or US-allied countries to produce chips for clients.

Earlier this year, SMIC raised $6.6 billion (roughly Rs. 48,262 crores) in a listing in China’s tech-centric STAR Market, aiming to use the cash to kickstart manufacturing into more advanced technology.

© Thomson Reuters 2020


OnePlus 8T leaked specs look great but where is the cheaper Nord? We discussed this on Orbital, our weekly technology podcast, which you can subscribe to via Apple Podcasts, Google Podcasts, or RSS, download the episode, or just hit the play button below.



Source link

5G’s Arrival Tees Up Patent Fights in Market Set to Grow 12,000 Percent

0


Battles unfolding on several continents over who profits from connected cars, smarthomes, and robotic surgery may dwarf the size and scope of the tech industry’s first worldwide patent war, the one over smartphones.

Automakers are now in court fighting some of the same companies that phonemakers such as Apple had to pay billions of dollars for use of their wireless standards technology. Those companies, Qualcomm, Nokia, and other telecommunications developers, may reap 5G royalties not only from “talking cars” but from products that will communicate wirelessly being planned in agriculture, medicine, appliances and other sectors.

“So many different types of companies have to find a way to get these deals done,” said Joe Siino, president of Via Licensing, a Dolby Laboratories unit that works with audio, wireless, broadcast and automotive industries. “It’s taking the problems we had with smartphones and multiplying it by 10.”

The value of standardised technology was a key issue in the smartphone wars that pitted the developers of wireless technology, like Nokia, Qualcomm and Motorola, against then-new entrants into the handset market, such as Apple and Microsoft. Dozens of legal battles were waged over nearly a decade, costing hundreds of millions of dollars in legal fees alone.

The new disputes are potentially more lucrative as sales of devices using 5G is forecast to grow to $668 billion (roughly Rs. 48,89,927 crores) globally in 2026 from $5.5 billion (roughly Rs. 40,261 crores) this year, according to Allied Market Research. The technology promises to transform a wide range of products from the dishwashers you program on your morning commute to driverless delivery trucks and sensors that let a farmer monitor crops, livestock and equipment from a smartphone.

Courts in the US and Europe have in the past few weeks rejected efforts claiming the telecommunications companies’ licensing policies violated antitrust laws and confirmed their ability to limit the use of fundamental wireless technology by those who refuse to meet their licensing demands.

Those rulings have already favored the telecoms in cases brought by the automobile industry in Europe and the US over the current wireless standards

In the past few weeks, judges in Germany sided with Sharp’s request to limit Daimler AG sales in its home country for using its mobile technology without a license. In an unrelated case a federal judge in Texas threw out an antitrust lawsuit filed by Continental AG, a Daimler parts supplier, against a patent-licensing pool set up as a one-stop shop for access to patents.

That pool, Avanci, handles licensing patents owned by Qualcomm, Nokia, Sharp and other telecom companies. It charges $15 (roughly Rs. 1,100) per vehicle for a range of patented inventions needed to comply with 2G, 3G and 4G standards, and is developing a plan to charge for the next generation, known as 5G.

“Patent owners want to get paid because they are proud of what they created and continue to innovate,” Kasim Alfalahi, founder and CEO of Avanci. “You have to find a middle ground, you have to find a place where these things can meet.”

Automakers typically leave patent issues to their parts suppliers, who pay any needed royalties and indemnify the automakers against lawsuits. Mercedes-Benz maker Daimler is chafing at the way the telecom industry handles licensing, saying the patent owners should deal with the suppliers like everyone else.

Continental said it was willing to pay royalties, but Avanci will only deal with the automakers so it can collect more money. Royalties should apply to the $100 (roughly Rs. 7,300) part that allows connectivity, not a $50,000 (roughly Rs. 36,60,100) car, the parts maker said.

In a letter to the US Federal Trade Commission, Daimler and Ford warned that an appeals court ruling won by Qualcomm could “destabilise the standards ecosystem by encouraging the abuse of market power acquired through collaborative standard-setting.”

“The fact that more and more industries are going to start incorporating technology that has to be standardised means it’s going to be even more important to resolve these issues,” said Katie Coltart, a patent lawyer with Kirkland & Ellis’s London office.

Industry standards are necessary to ensure devices can talk to each other and companies that develop those standards promise to license relevant patents on fair, reasonable and non-discriminatory terms, known as FRAND. But the standard-setting boards have purposefully never defined that phrase to avoid in-fighting that could hobble the ability to create the standards.

“You’ve got a handful of companies that are investing billions of dollars in research,” said Mark Snyder, deputy general counsel for Qualcomm. “In a functioning market, you want people to engage in earnest negotiation. FRAND is a two-way street.”

The fight between Avanci and Daimler notwithstanding, Siino said patent pools give firms access to large swaths of patents needed to comply with the wireless standards. They can be a “safe haven” that limit the number of negotiations needed and take the dispute out of the trade wars that pit country against country, he said.

Still, there are potentially thousands of patents that aren’t part of the pools and aren’t encumbered with FRAND obligations, said Craig Thompson, general manager of Unified Consulting, which helps companies analyse patent portfolios. Huawei, for instance, has only become a major player in standards boards with 5G, and it’s still fighting lawsuits to try to limit the amount it has to pay in royalties on earlier generation technology used in its networking gear.

The American and European telecom companies have found their biggest supporter with the Trump administration’s antitrust czar, Makan Delrahim. The head of the Justice Department’s Antitrust Division has written courts on behalf of patent owners like Ericsson and InterDigital. that royalty fights are a contract or patent dispute, not an antitrust violation.

The rulings indicate a “pro-innovation understanding of the law” and are important for “competitiveness of the US technology market but more importantly, innovation internationally,” Delrahim said at a September 10 Leadership 2020 conference in Washington.

There’s no guarantee it will be smooth sailing for the patent owners. A Chinese court has issued an order that would limit InterDigital’s powers in a royalty spat with handset maker Xiaomi, even though the legal fight is in India. And judges in Dusseldorf indicated they want the European Union’s top court to weigh in on the dispute between Nokia and Daimler, which could turn the tide against the former handset maker if the EU top judges side with the carmaker.

The concern is that if there isn’t enough money for patent owners, they won’t work together to develop a single system that can be used for anyone. Too much money, though, means manufacturers will increase their prices or opt to pass on using the latest technology, said Mauricio Uribe, a patent lawyer with Knobbe Martens in Seattle.

“Neither extreme is good for consumers,” he said.


OnePlus 8T leaked specs look great but where is the cheaper Nord? We discussed this on Orbital, our weekly technology podcast, which you can subscribe to via Apple Podcasts, Google Podcasts, or RSS, download the episode, or just hit the play button below.



Source link

भारत में आज लॉन्च होगा नया स्मार्टफोन Motorola Razr 5G, मिलेगी दो स्क्रीन और कई खासियत

0


Motorola Razr 5G में 48 मेगापिक्सल का प्राइमरी कैमरा दिया जाएगा.

मुड़ने वाले Motorola Razr 5G फोन में दो स्क्रीन मिलेगी, जिसमें प्राइमेरी डिस्प्ले 6.2 इंच का है, और 2.7 इंच का एक OLED सेकेंडरी डिस्प्ले दिया गया है…

मोटोरोला (Motorola) का सेकेंड जेनरेशन फोल्डेबल फोन रेज़र 5G (Motorola Razr 5G) आज (5 अक्टूबर) भारत में लॉन्च होने के लिए तैयार है. कंपनी इस फोन को वर्चुअल इवेंट के ज़रिए दोपहर 12 बजे पेश करेगी. मोटोरोला रेज़र 5G फ्लिपकार्ट पर उपलब्ध कराया जाएगा, साथ ही इसे कुछ चुनिंदा स्टोर से भी खरीदा जा सकता है. जानकारी के लिए बता दें कि मोटोरोला ने Razr 5G को US में पिछले महीने लॉन्च किया था, जहां इसकी कीमत $1,399 रखी गई है, जो कि भारतीय कीमत में  1,03 लाख रुपये है.  माना जा रहा है कि भारत में ये फोन इसी कीमत के आसपास ही लॉन्च किया जाएगा.

फोन के स्पेसिफिकेशंस की बात करें तो इसमें प्राइमेरी स्क्रीन 2142×876 पिक्सल रेजॉलूशन के साथ 6.2 इंच वाली प्लास्टिक OLED की है. ये फोल्डेबल डिस्प्ले 21:9 के अस्पेक्ट रेशियो के साथ आता है. कंपनी का दावा है कि फोन का डिस्प्ले 2 लाख बार तक बिना खराब हुए फोल्ड और अनफोल्ड हो सकता है.

(ये भी पढ़ें-  लॉन्च से पहले लीक हुई Apple iPhone 12 के चारों फोन की कीमत, जानें Mini iPhone का दाम भी…)

फोन में 600×800 पिक्सल रेजॉलूशन के साथ 2.7 इंच का एक OLED सेकेंडरी डिस्प्ले दिया गया है. इस डिस्प्ले का अस्पेक्ट रेशियो 4:3 है. ये डिस्प्ले फोन के फ्रंट फ्लिप पैनल पर लगा है. इससे यूज़र बिना फोन को अनफोल्ड किए नोटिफिकेशन्स को चेक कर सकेंगे. ये फोन 256जीबी के इंटरनल मेमोरी के साथ आता है, जिसमें स्नैपड्रैगन 765G SoC प्रोसेसर दिया गया है. फोन 8GB RAM के साथ पेश किया जा सकता है.

ऐसा होगा कैमरा और बैटरी
कैमरे के तौर पर इस फोल्डेबल स्मार्टफोन में 48 मेगापिक्सल का प्राइमरी कैमरा दिया गया है. ये कैमरा फोन के फ्लिप पैनल पर ऊपर की तरफ दिया गया है और इसीलिए इसका इस्तेमाल सेल्फी कैमरा के तौर पर भी किया जा सकता है. सेल्फी के लिए इसमें 20 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा मौजूद है.

(ये भी पढ़ें- Jio का धांसू ऑफर! इस सस्ते प्लान में मिल रहा है 6GB एक्सट्रा डेटा, कॉलिंग समेत फ्री में पाएं ये सर्विस)

पावर के लिए Moto Razr 5G में 2,800mAh की बैटरी दी गई है, जो कि 15W टर्बो पावर फास्ट चार्जिंग सपोर्ट के साथ आती है. कनेक्टिविटी के लिए इस फोन में साइड माउंटेड फिंगरफ्रिंट स्कैनर के साथ यूएसबी टाइप C जैसे स्टैंडर्ड फीचर्स दिए गए हैं.





Source link

Film Industry में Javed Akhtar को हुए 56 साल, जानें मुंबई को लेकर क्या कहा

0


नई दिल्लीः फिल्मी जगत के जाने-माने गीतकार जावेद अख्तर (Javed Akhtar) सोशल मीडिया में खुल कर अपने विचार साझा करने के लिए जाने जाते हैं. वह फिल्मी, गैर-फिल्मी मुद्दों पर अपने बयान देते रहते हैं. इसके चलते वह कई बार विवादों में भी रहे. कल, वह फिल्म इंडस्ट्री (film industry) और मुंबई के प्रति आभार जताने के लिए ट्विटर पर आए.

जावेद अख्तर को फिल्म इंडस्ट्री में हुए 56 साल
जावेद अख्तर ने पोस्ट में लिखा, ‘मैं 4 अक्टूबर 1964 को बॉम्बे आया था. इस 56 साल की लंबी यात्रा में कई टेढ़-मेढ़ मोड़ थे, कई उतार-चढ़ाव थे, पर कुल मिलाकर यह सफर मेरे पक्ष में रहा. मुंबई और फिल्म इंडस्ट्री का शुक्रिया अदा करता हूं. इस जीवन के लिए आभार. आप सभी की मुझ पर कृपा रही है.’

बच्चों को ड्रग्स न लेने की देंगे सलाह 

इस बीच, सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच में बॉलीवुड का ड्रग कनेक्शन सामने आया है. बॉलीवुड इस समय गलत वजहों से चर्चा में बना हुआ है. हाल में जावेद से पूछा गया कि अगर उन्हें पता चलता है कि उनके बच्चे जोया और फरहान अख्तर मारिजुआना लेते हैं, तो वह क्या करेंगे. इसके जवाब में उन्होंने कहा कि वह अपने बच्चों को ऐसा न करने के लिए कहेंगे. बताएंगे कि यह सही नहीं है. साथ में उन्होंने यह भी कहा कि उनके बच्चे अब बड़े हैं, इसलिए उन्हें क्या करना है, यह उन पर छोड़ देंगे.





Source link