Home Blog Page 3892

मणिपुर के उखरुल में सुबह 3 बजकर 32 मिनट पर भूकंप के झटके, 4.3 थी तीव्रता

0



<p style=”text-align: justify;”><strong>इंफाल:</strong> मणिपुर के उखरुल जिले में बुधवार की सुबह 3 बजकर 32 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 4.3 मापी गई है. अभी तक जानमाल के हानि की कोई खबर नहीं है. इससे पहले मणिपुर में 1 सितंबर को 5.1



Source link

किसान कानून: स्मृति ईरानी का राहुल गांधी पर निशाना, कहा- वे बिचौलियों के पक्ष में यात्रा कर रहे हैं

0


नई दिल्ली: किसान कानून के खिलाफ राहुल गांधी के विरोध पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने निशाना साधा. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी किसानों के पक्ष में नहीं बल्कि देश को लूटने वाले बिचौलियों के पक्ष में यात्राएं कर रहे हैं.

कांग्रेस के सत्ता में आने पर कृषि कानूनों को खत्म कर दिया जाएगा, गांधी के इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए ईरानी ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि राहुल गांधी सपनों की दुनिया में रहते हैं, जहां उन्हें लगता है कि वह राजा हैं.’’

स्मृति ईरानी ने सवाल किया, जब गांधी कृषि कानूनों का विरोध करते हैं तो क्या वह उस प्रावधान का भी विरोध करते हैं कि किसानों को फसल बेचने के तीन दिन के भीतर उसका मूल्य मिल जाएगा, या फिर किसान देश में कहीं भी अपना उत्पाद बेचने के लिए स्वतंत्र है, या फिर इसके तहत उनकी जमीन को रिकवरी के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा.

केन्द्रीय मंत्री ने यहां कहा, ‘‘सच्चाई यह है कि  और इससे देश में किसी को आश्चर्य नहीं है.’’ उन्होंने कहा कि गांधी परिवार कभी भी वंचित तबके के लिए खड़ा नहीं हुआ है, वह हमेशा बिचौलियों के साथ रहा है.

स्मृति ईरानी ने आरोप लगाया, ‘‘उनकी पार्टी और खास तौर से उनके परिवार की राजनीति हमेशा बिचौलियों पर निर्भर रही है जिन्होंने देश को लूटा है.’’ उन्होंने खास तौर से कहा कि देशभर में न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के तहत फसलों की खरीद जारी है.

बता दें कि राहुल गांधी ने पंजाब के मोगा में किसान कानून के खिलाफ ट्रैक्टर यात्रा की शुरुआत करते हुए एक जनसभा को संबोधित किया था. इसमें उन्होंने कहा था कि मोदी सरकार में किसानों के साथ अंग्रेजी जैसा सलूक हो रहा है. राहुल ने कहा था कि सत्ता में लौटे तो काला कानून रद्द करेंगे.

राहुल गांधी का पीएम मोदी पर निशाना, बोले-…अगर हमारी सरकार सत्ता में होती तो 15 मिनट में चीन को बाहर फेंक देते 



Source link

भारत-अमेरिका के विदेश मंत्रियों के बीच हुई मुलाकात, दोनों देशों के संबंधों को मजबूती पर दिया जोर

0


वाशिंगटनः अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ और भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मंगलवार को टोक्यो में मुलाकात की. दोनों नेताओं ने भारत-प्रशांत क्षेत्र और विश्व में शांति, समृद्धि और सुरक्षा संबंधी प्रयासों को मजबूती देने के लिए साथ मिलकर कार्य करने के महत्व को रेखांकित किया. इसकी जानकारी विदेश विभाग ने दी है.

अमेरिका, भारत, ऑस्ट्रेलिया, जापान क्वाड परामर्श बैठक के दौरान दोनों देशों के प्रतिनिधि टोक्यो में मिले और उन्होंने अंतरराष्ट्रीय महत्व के मुद्दों पर द्विपक्षीय और बहुपक्षीय सहयोग पर चर्चा की. पोम्पिओ ने जयशंकर के साथ हुई मुलाकात को सफल करार देते हुए ट्वीट किया, “भारतीय विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर के साथ आज हुई बैठक सफल रही. हम साथ मिलकर भारत-अमेरिका संबंधों को आगे ले जा रहे हैं, कोविड-19 से मुकाबला कर रहे हैं और भारत प्रशांत क्षेत्र में सुरक्षा और समृद्धि सुनिश्चित करने का प्रयास कर रहे हैं.”

विदेश विभाग के प्रधान उप प्रवक्ता केल ब्राउन ने कहा कि दोनों नेताओं ने “भारत-अमेरिका संबंधों को मजबूत करने के लिए प्रतिबद्धता दोहराई, कोविड-19 महामारी से मुकाबला करने के हमारे प्रयासों की समीक्षा की और भारत-प्रशांत क्षेत्र और विश्व में शांति, समृद्धि और सुरक्षा संबंधी प्रयासों को बल देने के लिए साथ मिलकर कार्य करने के महत्व को रेखांकित किया.”

उन्होंने कहा कि दोनों नेता क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व के सभी मुद्दों पर एक दूसरे का सहयोग करने पर सहमत हुए. हालांकि पोम्पिओ और जयशंकर प्रायः फोन पर बातचीत करते हैं लेकिन भारत और चीन के बीच हालिया गतिरोध उत्पन्न होने के बाद यह उनकी पहली मुलाकात थी. भारत भी जापान, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया के साथ भारत-प्रशांत क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग को विस्तार देना चाहता है.

इसे भी पढ़ेंः
Special Report: देखिए यूपी में बिजली कर्मचारियों के हड़ताल से जनता को कितनी हुई परेशानी

BJP कार्यकर्ता को बचाने के लिए आतंकियों से भिड़ने वाले सुरक्षाकर्मी मोहम्मद अल्ताफ हार गए ज़िंदगी की जंग





Source link

IPL 2020: कार्तिक त्‍यागी पर है सुरेश रैना का एहसान, अब मुंबई के खिलाफ डेब्‍यू मैच में मचाया कोहराम

0


क्विंटन डीकॉक आईपीएल में कार्तिक त्‍यागी के पहले शिकार बने (फोटो क्रेडिट: IPL ट्विटर हैंडल)

कार्तिक त्‍यागी (Kartik Tyagi ) ने अपने डेब्‍यू मैच के पहले ही ओवर में क्विंटन डी कॉक का बड़ा विकेट लिया

नई दिल्‍ली. रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की अगुआई वाली मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के खिलाफ आईपीएल (IPL 2020) के इस सीजन का 20वां मैच खेलने उतरी राजस्‍थान रॉयल्‍स (Rajasthan Royals) में अपनी टीम में तीन बड़े बदलाव किए और गेंदबाज कार्तिक त्‍यागी (Kartik Tyagi) को टीम में शामिल किया. कार्तिक ने इसके साथ ही आईपीएल में डेब्‍यू कर लिया है. 8 नवंबर 2000 को उत्‍तर प्रदेश के हापुड़ में जन्‍में 19 साल के त्‍यागी ने अपने डेब्‍यू मैच के पहले ही ओवर में कोहराम मचा दिया. उन्‍होंने आईपीएल में अपने पहले ओवर की पांचवीं गेंद पर क्विंटन डीकॉक को आउट कर दिया. डीकॉक 23 रन ही बना पाए.
इसी साल अंडर 19 वर्ल्‍ड कप में उन्‍होंने भारत का प्रतिनिधित्‍व किया था और अपनी गेंदबाजी से प्रभावित करने में सफल रहे थे. त्‍यागी को राजस्‍थान ने 1.3 करोड़ में खरीदा था. उन्‍होंने अभी तक एक फर्स्‍ट क्‍लास मैच खेला है और अब दुनिया के दिग्‍गज बल्‍लेबाजों को अपनी गेंद से परेशान करने के लिए तैयार हैं.

रैना के कारण त्‍यागी को मिली थी जगह

युवा गेंदबाज कार्तिक त्‍यागी यहां तक पहुंचने के लिए पूर्व भारतीय ऑलराउंडर सुरेश रैना (Suresh Raina) के एहसानमंद हैं. कार्तिक ने 2017 में 16 साल 11 महीने की उम्र में रणजी ट्रॉफी में डेब्‍यू किया था. हालांकि इसके बाद चोट के कारण उनके करियर पर थोड़ा ब्रेक जरूर लग गया था, मगर फिर वह उतनी ही तेजी से आगे भी बढ़े. त्‍यागी आज भी उस पल को नहीं भूल पाए, जब रैना के कारण उनके करियर को एक दिशा मिली. दरअसल उन्हें रणजी टीम में शामिल करने की वकालत रैना ने ही की थी और तेज गेंदबाज प्रवीण कुमार ने उनका पूरा समर्थन किया.यह भी पढ़ें:

IPL 2020: भुवनेश्वर कुमार की जगह लेगा 22 साल का ये गेंदबाज, सनराइजर्स हैदराबाद में हुआ शामिल

स्मिथ, वॉर्नर के IPL 2020 खेलने से ऑस्‍ट्रेलियाई टीम को नुकसान! जानें कप्‍तान पेन ने क्‍या कहा?

दाएं हाथ के इस तेज गेंदबाज कार्तिक ने कुछ समय पहले एक इंटरव्‍यू में कहा था कि रैना का जो योगदान रहा है, उसे वह कभी नहीं भूला पाएंगे. जब वह अंडर-16 में खेल रहे थे, तब उन्‍हें रणजी ट्रॉफी शिविर में शामिल होने के लिए कहा गया था . रैना ने कुछ दिनों तक उनके खेल को देखने के बाद चयनकर्ताओं से उन्‍हें रणजी ट्रॉफी टीम में शामिल करने के लिए कहा था.





Source link

दिल्ली के आस-पास पराली जलाने की घटनाओं में बढ़ोतरी, शहर में वायु गुणवत्ता और खराब होने की आशंका

0



<p style=”text-align: justify;”><strong>नई दिल्लीः</strong> राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार सुबह वायु गुणवत्ता ‘मध्यम’ श्रेणी में दर्ज की गई, लेकिन पंजाब, हरियाणा और आसपास के अन्य राज्यों में पराली जलाने की घटनाओं में वृद्धि के मद्देनजर आने वाले दिनों में इसमें और गिरावट की आशंका है. पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु गुणवत्ता



Source link

MI vs RR: इन बड़े कारणों से राजस्थान रॉयल्स को देखनी पड़ी हार की हैट्रिक

0


अबू धाबी: आईपीएल 2020 (IPL 2020) में पहले सीजन की विजेता टीम राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) ने शुरुआत तो अच्छी की थी, लेकिन अब टीम हार की पटरी पर चल पड़ी. मंगलवार को खेले गए इस टूर्नामेंट के 20वें मैच में गतविजेता मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) ने रॉयल्स को 57 रनों से मात दे दी है.

यह करारी शिकस्त राजस्थान रॉयल्स की इस सीजन लगातार तीसरी हार है. इस बीच हम आपको बताने जा रहे हैं. आखिर कौन से वो कारण रहे, जिसकी वजह से राजस्थान रॉयल्स ने हार की हैट्रिक लगाई और एम आई की पलटन के सामने मैच गंवाया. 

शुरुआत में नहीं मिला जल्दी विकेट

टॉस हारकर फील्डिंग करने उतरी राजस्थान रॉयल्स (RR) को मुंबई इंडियंस (MI) की पारी के दौरान शुरुआत में जल्दी विकेट हासिल नहीं हो सका. जिसके कारण एम आई के सलामी बल्लेबाज क्विंटन डीकॉक और रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने पहले विकेट के लिए 4.5 ओवर में तूफानी 49 रन जोड़े. 

हार्दिक पांड्या को दिया जीवनदान

डेथ ओवर्स में आईपीएल में हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) से खतरनाक बल्लेबाज कोई नहीं है और उसी दौरान उनका कैच छोड़ना काफी भारी पड़ता है. ऐसी ही गलती राजस्थान रॉयल्स के ऑल राउंडर टॉम करन ने की. जब उन्होंने एम आई की पारी के 16वें ओवर में 17 रन पर हार्दिक का कैच टपका दिया था. अंत में पांड्या ने आखिर तक नाबाद रहते हुए 19 गेंदों में 30 रनों की तेजतर्रार पारी खेली. 

यह भी पढ़ें: IPL 2020: इस U-19 सितारे ने किया IPL में डेब्यू, जानिए अब तक का सफर

मंहगे साबित हुए अंकित राजपूत

मुंबई इंडियंस के खिलाफ इस मैच से राजस्थान रॉयल्स की टीम में वापसी कर रहे तेज गेंदबाज अंकित राजपूत (Ankit Rajpoot) काफी मंहगे साबित हुए. राजपूत ने 3 ओवर में 14 की खर्चीली इकोनमी के साथ 42 रन लुटाए. 

पहले तीन ओवर में राजस्थान ने गंवाए 3 विकेट

मुंबई की तरफ से मिले 195 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए राजस्थान रॉयल्स की शुरुआत बेहद निराशाजनक रही. राजस्थान ने अपनी पारी के दौरान पहले 3 ओवर में यशस्वी जायसवाल, कप्तान स्टीव स्मिथ और संजू सैमसन जैसे बड़े बल्लेबाजों के विकेट खो दिए. इन शुरुआत झटकों के बाद टीम मैच में वापसी नहीं कर पायी. 

बटलर को छोड़ सभी बल्लेबाज रहे फ्लॉप

राजस्थान रॉयल्स की टीम के सलामी बल्लेबाज जोस बटलर (Jos Buttler) ने इस मैच में 70 रनों की विस्फोटक पारी जरूर खेली, लेकिन वह अपनी टीम को जीत दिलाने में नाकाम रहे. क्योंकि दूसरे छोर पर रॉयल्स का कोई भी बल्लेबाज बटलर का साथ अधिक समय तक नहीं दे सका. 





Source link

CBI के दावों को कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने नकारा, कहा- तलाशी में 6.78 लाख रुपये नकद मिले

0


बेंगलुरुः कर्नाटक कांग्रेस के प्रमुख डीके शिवकुमार के भाई और बेंगलुरु ग्रामीण से सांसद डीके सुरेश ने मंगलवार को दावा किया कि सीबीआई को उनके आवासों की तलाशी के दौरान मात्र 6.78 लाख रुपये नकद मिले. एजेंसी ने एक दिन पहले कहा था कि उसने तलाशी के दौरान 57 लाख रुपये जब्त किए हैं.

एजेंसी ने सोमवार को दावा किया था कि शिवकुमार और अन्य के परिसरों की तलाशी के दौरान करीब 57 लाख रुपये नकद और संपत्ति के दस्तावेज, बैंक संबंधित जानकारियां और कंप्यूटर हार्ड डिस्क बरामद की गई थीं. सुरेश ने कहा, ” मैं यह भी स्पष्ट करना चाहूंगा कि सीबीआई ने मेरे भाई और मेरे परिसरों से कुल 6.78 लाख रुपये की नकदी की गणना की थी. “

मेरे बेंगलुरु के घर से कोई नकद पैसा नहीं मिला- डीके सुरेश

इसके साथ ही उन्होंने ट्विटर पर कहा, ” मेरे दिल्ली के आवास से 1.57 लाख रुपये, बेंगलुरु में मेरे भाई के आवास से 1.71 लाख रुपये, उनके बेंगलुरू के गृह दफ्तर से 3.5 लाख रुपये नकद की गणना की थी. मेरे भाई के दिल्ली आवास और मेरे बेंगलुरु के घर से कोई नकद पैसा नहीं मिला. ” इसके बाद शिवकुमार ने पत्रकारों से कहा कि अधिकारी उनकी मां के घर से कुछ लेकर नहीं गए जबकि उनके दिल्ली के आवास से कुछ दस्तावेज लिए हैं. वहीं उनके साढ़ू शशि कुमार के घर से भी कुछ कागजात लिए हैं.

डीके सुरेश ने कहा, “मुझे यह भी बताया गया है कि मेरे दोस्त सचिन नारायण के पास से 50 लाख रुपये बरामद हुए हैं जो शराब और होटल कारोबार में हैं.” शिवकुमार ने कहा, ” वह रविवार होने की वजह से पैसों को बैंक में जमा नहीं करा सके. मैं उनसे बात नहीं कर पाया हूं.” उन्होंने कहा कि उनके परिसरों से जो बरामद हुआ है, वह उसका पंचनामा जारी करने को तैयार हैं. प्रदेश कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि राजनीति में रहने वाले उन जैसे लोग चीजों को छुपा कर नहीं रख सकते हैं.

मैं उनके लिए जवाबदेह हूं जो मेरे घर में हैं- शिवकुमार

शिवकुमार ने कहा, ” यह मेरे पर और मेरे घर पर छापा है. मेरे पर प्राथमिकी हुई है, इसमें उनमें से (दोस्तों और परिवारों में से) किसी का नाम नहीं है. मुझे नहीं पता क्या उनके खिलाफ अलग से मामले दर्ज किए गए हैं.” शिवकुमार ने भी 57 लाख रुपये बरामद होने के सीबीआई के दावे का सोमवार को ही खंडन किया था और कहा था, “मैं उनके लिए जवाबदेह हूं जो मेरे घर में हैं.”

तलाशी के दौरान अधिकारियों की ओर से उनके निजी सहायक को कथित रूप से पीटने संबंधी सवाल पर शिवकुमार ने कहा कि उन्हें इस बारे में सूचित किया गया है लेकिन वह मामले पर अच्छी तरह से जानकारी हासिल करने के बाद ही टिप्पणी करेंगे.

उन्होंने कहा , “मैं मामले को देख लूं पहले, क्योंकि मेरा पीए रो रहा था. मैं नहीं चाहता कि कुछ अप्रिय हो जैसा पूर्व उपमुख्यमंत्री परमेश्वर के पीए रमेश के साथ हुआ था, जिन्होंने पिछले साल अपने बॉस से संबंधित संपत्तियों पर आयकर के छापे के बाद खुदकुशी कर ली थी.” दूसरी तरफ, सुरेश ने उनके और उनके भाई के परिसरों में बिना किसी उत्पीड़न के तलाशी लेने के लिए सीबीआई के पेशेवर आचरण की तारीफ की.

एक सवाल पर शिवकुमार ने कहा कि उन्हें अभी कोई समन नहीं मिला है. शिवकुमार ने सोमवार को सीबीआई द्वारा 14 स्थानों पर की गई तलाशी को राजनीतिक रूप से प्रेरित बताया था और कहा था कि वह उन्हें चुप कराने की ” साजिशों या दबावों के” आगे झुकेंगे नहीं.

इसे भी पढ़ेंः
Special Report: देखिए यूपी में बिजली कर्मचारियों के हड़ताल से जनता को कितनी हुई परेशानी

BJP कार्यकर्ता को बचाने के लिए आतंकियों से भिड़ने वाले सुरक्षाकर्मी मोहम्मद अल्ताफ हार गए ज़िंदगी की जंग



Source link

MI vs RR, IPL 2020: मुंबई के खिलाफ राजस्‍थान ने किए 3 बदलाव, जानिए दोनों टीमों की प्‍लेइंग XI

0


नई दिल्‍ली. आईपीएल (IPL 2020) के 13वें सीजन में मंगलवार को मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) और राजस्‍थान रॉयल्‍स (Rajasthan Royals) के बीच मुकाबला खेला जा रहा है, जहां मुंबई ने टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी चुनी. मुंबई इंडियंस ने टीम में कोई बदलाव नहीं किया है, जबकि राजस्‍थान ने तीन बदलाव किए हैं. मुंबई इस समय शानदार फॉर्म में चल रही है और उसने पिछले दो मैचों में किंग्‍स इलेवन पंजाब और सनराइजर्स हैदराबाद पर जीत दर्ज की थी.

वहीं दूसरी तरफ स्टीव स्मिथ (Steve Smith) की टीम राजस्‍थान ने अपने पिछले दोनों मैच गंवाए हैं. कोलकाता नाइट राइडर्स ने 37 रन और विराट कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने 8 विकेट से राजस्‍थान को मात दी थी.   राजस्‍थान  के कप्‍तान स्‍टीव स्मिथ ने पहले ही टीम में बदलाव के संकेत दे दिए थे. राजस्‍थान मध्‍यक्रम पर बल्‍लेबाजी में संघर्ष करता नजर आ रहा था.
मुंबई इंडियंस की प्‍लेइंग इलेवन: रोहित शर्मा, क्विंटन डीकॉक, सूर्यकुमार यादव, इशान किशन, हार्दिक पंड्या, कायरन पोलार्ड, क्रुणाल पंड्या, जेम्‍स पैटिंसन, राहुल चाहर, ट्रेंट बोल्‍ट, जसप्रीत बुमराह

राजस्‍थान रॉयल्‍स की प्‍लेइंग इलेवन: जोस बटलर, यशस्‍वी जायसवाल, स्‍टीव स्मिथ, संजू सैमसन, महिपाल लोमरोर, राहुल तेवतिया, जोफ्रा आर्चर, कार्तिग त्‍यागी, टॉम कुरेन, श्रेयस गोपाल, अंकित राजपूतदिल्‍ली कैपिटल्‍स के बाद पॉइंट टेबल में दूसरे नंबर पर मौजूद मुंबई इंडियंस मंगलवार को छठा मैच खेलेगी. राजस्‍थान पॉइंट टेबल में 5वें नंबर पर है. राजस्‍थान  के कप्‍तान ने पहले ही टीम में बदलाव के संकेत दे दिए थे. राजस्‍थान मध्‍यक्रम पर बल्‍लेबाजी में संघर्ष करता नजर आ रहा था.

यह भी पढ़ें: 

IPL 2020: पृथ्वी शॉ ने बताई दिल्ली कैपिटल्स की जीत की वजह, कैसे टॉप पर पहुंची उनकी टीम

क्रिस गेल की तरह चलकर यूनिवर्स बॉस से मिलने पहुंचे धोनी, वायरल हुआ मजेदार वीडियो

राजस्‍थान की टीम में यशस्‍वी जायसवाल, अंकित राजपूत की वापसी हुई है, वहीं कार्तिक त्‍यागी आज आईपीएल में डेब्‍यू करेंगे. जयदेव उनादकट की जगह त्‍यागी को मौका दिया गया है. मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने  पहले बल्लेबाजी करने के फैसले पर कहा कि पिच अच्छी दिख रही है. पहला मुकाबला यहां खेला था और अच्छा रहा था.





Source link

IPL 2020 LIVE UPDATES: भुवनेश्‍वर की जगह हैदराबाद ने पृथ्‍वी को किया शामिल, एक क्लिक में पढ़े IPL से जुड़ी तमाम खबरें

0


चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।





Source link

ABVP के प्रतिनिधिमंडल ने केन्द्रीय मंत्री कैलाश चौधरी को सौंपा ज्ञापन, रिसर्च से जुड़ी समस्याओं से अवगत कराया

0



<p style=”text-align: justify;”><strong>नई दिल्ली:</strong> मंगलवार को आज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) दिल्ली और आईएआरआई (भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान ) के छात्रों के एक प्रतिनिधिमंडल ने केन्द्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी से मुलाकात की. इन्होंने कोविड-19 की परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए चौथे वर्ष के शोध छात्रों हेतु



Source link