5GBaba.in - News, Cricket, Sports - Page 1052
Free Bitcoin Every hour
Home Blog Page 1052

जिन्हें लगता है की Afghanistan से हमें क्या, वो यह वीडियो जरूर देखें | भारत का युग

0



<p>एक शेर है, लगेगी आग तो आएंगे कई घर जद में… यहां एक मेरा मकान थोड़ी है. अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद यह शेर पड़ोसी देशों के लिए सही बैठता है. इसलिए आज भारत के युग के इस एपिसोड में मनोज मुंतशिर के साथ यह वीडियो जरूर देखिये अगर आप सोचते हैं कि अफगानिस्तान में जो हो रहा है उससे हमें क्या.&nbsp;</p>



Source link

‘चेहरे’ से पहले अमिताभ बच्चन ने इस फिल्म में किया था मुफ्त में काम, 12 साल बाद बताई थी वजह

0


मुंबईः बॉलीवुड एक्टर अमिताभ बच्चन स्टारर ‘चेहरे’ (Chehre Box Office Collection) एक दिन पहले बॉक्स ऑफिस पर रिलीज हो गई. फिल्म में इमरान हाशमी, रिया चक्रवर्ती और क्रिस्टल डिसूजा जैसे पॉपुलर एक्टर्स भी हैं. फिल्म को रूमी जाफरी ने डायरेक्ट किया है. फिल्म का बॉक्स ऑफिस पर पहले दिन कुछ खास कमाल नहीं दिखा और फिल्म ने पहले दिन मात्र 60 लाख रुपए की कमाई की. इस फिल्म के लिए अमिताभ बच्चन ने मुफ्त में काम किया है. यानी उन्होंने इसके लिए कोई फीस चार्ज नहीं की है.

इतना ही नहीं, उन्होंने फिल्म की पोलैंड में हुई शूटिंग के दौरान अपना खर्चा भी खुद उठाया. बिग बी (Amitabh Bachchan Chehre Fee) ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि वह फिल्म की कहानी से काफी प्रभावित हुए थे, लेकिन ऐसा पहली बार नहीं हुआ है. साल 2005 में आई फिल्म ‘ब्लैक’ के डायरेक्टर से अमिताभ बच्चन काफी प्रभावित हुए थे और उन्होंने फिल्म के लिए मुफ्त में काम किया. इस फिल्म को संजय लीला भंसाली ने डायरेक्ट किया था. इसमें रानी मुखर्जी लीड रोल में थीं.

साल 2017 में ‘ब्लैक’ (Amitabh Bachchan Black) की 12वीं सालगिरह पर अमिताभ बच्चन ने एक ब्लॉग लिखा था. इस ब्लॉग में उन्होंने बताया कि वह संजय लीला भंसाली की फिल्मों से काफी प्रभावित थे. उनकी फिल्मों को पसंद करते थे, इसलिए वह उनके साथ काम करना चाहते थे. जब उन्हें ‘ब्लैक’ में काम करने का ऑफर मिला, तो उन्होंने तुरंत स्वीकार कर लिया और इसके लिए कोई फीस भी नहीं ली. वह सिर्फ फिल्म का हिस्सा बनना चाहते थे.

बिग बी ने ब्लॉग में आगे लिखा कि फिल्म के प्रीमियर पर जब पूरी टीम फिल्म देख रही थी तो सबकी आंखों में खुशी के आंसू थे. सबसे बड़ी बात यह थी कि इस फिल्म के प्रीमियर में दिलीप कुमार साहब बैठे थे. दिलीप साब का वहां होना उनके सपने का पूरा होने जैसा था. फिल्म खत्म होने के बाद हॉल के बाहर दिलीप कुमार ने उनका हाथ पकड़ा और उनकी आंखों में देखने लगे. बिग बी ने लिखा कि ये पल उनके साथ जिंदगी भर रहने वाला है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

IND vs ENG: आने वाले मैचों में Playing 11 से कटेगा पंत का पत्ता? कप्तान कोहली ने खुद किया साफ

0


नई दिल्ली: जो रूट की कप्तानी वाली इंग्लैंड की टीम ने टीम इंडिया को लीड्स टेस्ट मैच में पारी और 76 रनों से करारी मात दी. इस मैच में बल्लेबाजों के खराब प्रदर्शन के चलते भारत को हार झेलनी पड़ी. टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत इंग्लैंड के पूरे दौरे पर बुरी तरह फ्लॉप रहे हैं. ऐसे में आने वाले मैचों उनकी जगह को लेकर कप्तान विराट कोहली ने बड़ा बयान दिया है. 

पंत को जगह देने पर बोले कोहली

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने शनिवार को विकेटकीपर ऋषभ पंत का समर्थन करते हुए कहा कि टीम प्रबंधन इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की बची हुई सीरीज में बल्लेबाजी के लिए उन्हें पूरा मौका देगा. इंग्लैंड के खिलाफ मौजूदा सीरीज के तीनों मैचों में खेलने वाले 23 साल के पंत का बल्ला अब तक नहीं चला है. वह नाटिघंम में 25, लार्ड्स में 37 और 22 रन, वहीं लीड्स में दो और एक रन ही बना सके हैं जिससे उन्होंने कुल 84 रन बनाए हैं.

कोहली ने कहा, ‘जैसा कि मैंने कहा कि एक हार से मैं इसका आकलन नहीं कर सकता या फिर बतौर कप्तान मैं इसका विश्लेषण करना शुरू नहीं कर सकता. निश्चित रूप से प्रबंधन भी इसका विश्लेषण शुरू नहीं करेगा क्योंकि हम टीम के तौर पर विफल नहीं हो रहे हैं.’ उन्होंने वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में पंत के निचले मध्यक्रम में रन नहीं जुटाने से हो रही परेशानी के बारे में पूछे गए सवाल पर कहा, ‘हम लगातार नहीं हार रहे हैं, जब मैं ऐसा कहता हूं तो मेरा मतलब यही है. हम निश्चित रूप से इस मैच में बतौर टीम हारे और हम इसकी जिम्मेदारी लेते हैं.’

पंत को देंगे मौका- कोहली

कोहली ने कहा, ‘चेतेश्वर पुजारा के बारे में भी इसी तरह की जा रही थी, जो कल के बाद शायद गायब हुई दिखती हैं, इसलिए हम ऋषभ को अपना खेल खेलने के लिए पूरा मौका देना चाहते हैं और चाहते हैं कि वह परिस्थितियों को समझे और जिम्मेदारी ले जैसा कि बल्लेबाजी क्रम में हर किसी से उम्मीद की जाती है.’ कोहली के अनुसार क्रिकेटरों को हमेशा रनों की संख्या के आधार पर नहीं आंका जा सकता.

कोहली ने कहा, ‘आप लोगों को हमेशा संख्या के आधार पर नहीं आंक सकते कि वे सफल हो रहे हैं या विफल हो रहे हैं, आप इस तरह टीम नहीं बनाते.’ उन्होंने कहा, ‘इस सीरीज में अब भी समय है. दो और टेस्ट मैचों के बाद हम देख सकते हैं और आकलन करेंगे कि हम इन इन विभागों में सही नहीं थे लेकिन अभी इसका समय नहीं है.’

पुजारा की भी की तारीफ

पुजारा ने तीसरे मैच से पहले रन नहीं बनाए थे, उन्होंने 91 रन की पारी खेली, हालांकि टीम हार गई. कोहली ने कहा, ‘हम बहुत खुश हैं जिस तरह से पुजारा ने इस पारी में बल्लेबाजी की. बाहर जो कुछ भी बोला जा रहा है, हम उसकी परवाह नहीं करते. हम जानते हैं कि वह अच्छा खेल रहे थे और यह सिर्फ समय की बात है कि वह फिर से लय कब हासिल कर लेंगे.’

 





Source link

करण देओल आज के एक्टर्स को मानते हैं ब्रांड, बोले-दादा से मिली करियर की सबसे अच्छी सलाह

0


मुंबईः बॉलीवुड एक्टर करण देओल (Karan Deol Debut Film) ने इंडस्ट्री में ‘पल पल दिल के पास’ से डेब्यू किया है. अभी तक उनकी एक ही फिल्म आई है, लेकिन उनका परिवार सालों से इस प्रोफेशन में है. इसलिए वे जानते हैं कि फिल्म इंडस्ट्री में पिछले कुछ सालों में कितना बदलाव आया है. करण देओल (Karan Deol) ने हिंदुस्तान टाइम्स को दिए इंटरव्यू में कहा, “पापा (सनी देओल) और दादा (धर्मेंद्र) का समय बिल्कुल अलग था. अब कई सारे फैक्टर हैं. एक एक्टर के तौर पर आप एक ब्रांड हैं. आप खुद को वहां एक कमोडिटी की तरह बेच रहे हैं, सोशल मीडिया पर खुद को प्रमोट कर रहे हैं. उस समय में, सोशल मीडिया बड़ा नहीं था, आपके फैंस से जुड़ने के अलग-अलग तरीके थे.”

करण देओल ने आगे कहा, “आपको वही होना चाहिए जो आप हैं, न कि वह जो आप नहीं हैं. मैं ऐसे काम नहीं कर सकता जिनमें मैं असहज महसूस करूं या जो मेरे अनुकूल नहीं है. आपको अपनी पर्सनैलिटी का ईमानदार पक्ष दिखाना होगा और आप अपने बारे में झूठ नहीं बोल सकते.”

करण देओल ने कहा की उन्हें सबसे अच्छी करियर सलाह उनके दादाजी (धर्मेंद्र) से मिली है. उन्होंने कहा, “वे कहते हैं कि अपनी उम्र में, वह अभी भी सीख रहे हैं. वह मुझे अपने चारों ओर देखने, सब कुछ स्वीकार करने और सीखने के लिए कहते हैं. आप कभी नहीं जानते कि आप एक दिन क्या सीख सकते हैं या कोई इंटरेस्टिंग कैरेक्टर आपको नजर आ जाए, जिसे आप बाद में निभा सकते हैं. हम लोग अपनी जिंदगियों में फंसे हुए हैं और अपने अपने चारों तरफ देखना बंद कर दिया है.”

बात करें वर्कफ्रंट की, तो करण देओल साल 2007 में आई फिल्म ‘अपने’ के सीक्वल ‘अपने 2’ में नजर आएंगे. ‘अपने 2’ में देओल परिवार साथ दिखाई देगा. फिल्म में सनी देओल, बॉबी देओल और धर्मेंद भी होंगे. हाल ही में इसका अनाउंसमेंट टीजर भी जारी किया गया था.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

IND VS ENG: जो रूट ने बताया-चौथे दिन कैसे बनाया टीम इंडिया पर दबाव, सिर्फ 63 रन पर झटके 8 विकेट

0


नई दिल्ली. इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (Joe Root) ने सीरीज 1-1 से बराबर करने के बाद कहा कि लीड्स में (India vs England, 3rd Test) उनके गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन कर भारतीय टीम को पारी और 76 रन से हराने में मदद की. पहली पारी में 78 रन पर सिमटने वाली भारतीय टीम चौथे दिन लंच से पहले दूसरी पारी में 278 रन पर आउट हो गयी जबकि इंग्लैंड ने पहली पारी में 432 रन बनाये थे. रूट ने चौथे दिन गेंदबाजों के प्रदर्शन के बारे में कहा, ‘गेंदबाजों का शानदार प्रदर्शन. नयी गेंद से उन्होंने कमाल कर दिया. सुबह तीन मेडन ओवर फेंके और जब भी मौके मिले, विकेट झटके. ‘

लॉर्ड्स में मिली हार के बाद वापसी करने के बारे में उन्होंने कहा, ‘ड्रेसिंग रूम में प्रतिभा को देखते हुए हम जानते थे कि हम वापसी करने में सक्षम थे, बस हमें और निरंतर होने की जरूरत थी. गेंद से हमारा प्रदर्शन शानदार रहा और इससे पहले बल्ले से हमारे लिये सलामी भागीदारी अहम रही. ‘ भारतीय टीम तीसरे दिन दूसरी पारी में दो विकेट पर 215 रन बना चुकी थी. इस पर उन्होंने कहा, ‘हम जानते थे कि दूसरी नयी गेंद से आज हमारे पास मौका होगा. (जेम्स) एंडरसन ने अपनी गेंदबाजी से कितना दबाव बना दिया, इसलिये वह टेस्ट में अहम गेंदबाज हैं. उन्होंने गेंदबाजी ग्रुप के लिये शानदार लय बनायी. वह इस उम्र में फिट हैं, यह शानदार है और दूसरों के लिये सीख लेने के लिये भी. ‘

IND VS ENG: लीड्स टेस्ट में क्यों मिली शर्मनाक शिकस्त? जानिए टीम इंडिया के ‘सरेंडर’ की 5 बड़ी वजहें

अपने घर पर शतक लगाने से खुश रूट
बता दें हेडिंग्ले जो रूट का घरेलू मैदान है और यहां शतक लगाकर जीत हासिल करना उनके लिए बेहद खास लम्हा है. जो रूट ने कहा, ‘हेडिंग्ले में मैंने काफी समय से शतक नहीं लगाया था यहां रन बनाकर अच्छा लग रहा है. उम्मीद है कि हम ऐसी ही फॉर्म जारी रखेंगे और हम ओवल टेस्ट के लिए तैयार हैं.’ जो रूट ने डेविड मलान की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि डेविड मलान का इंटरनेशनल क्रिकेट का अनुभव काम आया. शुरुआत में वो थोड़े असहज नजर आए लेकिन सेट होने के बाद उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की. जो रूट ने ऑली रॉबिनसन और सैम करेन की भी तारीफ की. रूट के मुताबिक ऑली रॉबिनसन ने भारतीय बल्लेबाजों के डिफेंस की परीक्षा ली और दूसरी पारी में उनकी लेंग्थ कमाल ही थी. बता दें रॉबिनसन ने दूसरी पारी में पांच विकेट अपने नाम किये और वो मैन ऑफ द मैच भी बने.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

Delhi Murder Case: सूट केस में युवक के शव की गुत्थी सुलझाते हुए 7 लोगों गिरफ्तार

0


दिल्ली: न्यू फ्रेंड्स इलाके में गंदे नाले से सूटकेस में मीला युवक में शव की गुत्थी पुलिस ने सुलझाने का दावा किया है. पुलिस ने इस मामले में युवक की पत्नी, सास और पत्नी के प्रेमी समेत 7 लोगों को गिरफ्तार किया है. इस मामले में युवक के हाथ पर गुदे टैटू से उसकी पहचान हो सकी, जिसके बाद पुलिस ने इस मामले को सुलझा लिया.

आरोपियों के नाम

मृतक की पत्नी मुस्कान, सास मीनू, मो. जमालुद्दीन उर्फ जमाल(पत्नी का प्रेमी), कोसलेंद्र उर्फ अमन, विशाल उर्फ कल्लू, विवेक उर्फ बागड़ी और राजकुमार कुमार उर्फ राजपाल उर्फ हेतल है. पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त चाकू बरामद कर लिया है. इसके अलावा मृतक का मोबाइल फोन, ऑटो और आरोपी व्यक्तियों के खून के धब्बे वाले कपड़े बरामद किए हैं. इन सभी के मोबाइल फोन भी जब्त किए गए हैं.

क्या है मामला

साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के डीसीपी आरपी मीणा ने बताया कि 10 अगस्त को न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी इलाके में सुखदेव विहार के पास गंदे नाले से एक सूटकेस में युवक का गला सड़ा शव बरामद किया गया. बैग काले रंग का ट्रॉली बैग था. युवक का चेहरा बुरी तरह से सड़ चुका था. उसकी पहचान करना मुश्किल था. शव के दाहिने हाथ पर “नवीन” नाम का एक टैटू गुदा था और हाथ में एक कड़ा भी था. पुलिस ने शव को एम्स स्थित मोर्चरी में रखवा दिया. एनएफसी के एसएचओ इंस्पेक्टर सुमन कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम ने जांच शुरू की. नेब सराय थाने से जानकारी मिली कि उनके इलाके स नवीन नामक एक युवक मिसिंग है, जिसके हाथ में नवीन नाम का टैटू भी गुदा है. इसके बाद मृतक की शिनाख्त देवली गांव निवासी नवीन( 24) के रूप में हुई.

पत्नी ने कराई थी मिसिंग रिपोर्ट

पुलिस जांच में पता चला कि नवीन की मिसिंग रिपोर्ट उसकी पत्नी मुस्कान ने दर्ज करवाई थी. उसने  पुलिस को बताया था कि उसका पति नवीन 8 अगस्त से लापता है. मुस्कान कुछ दिन पहले तक किराए के कमरे में रह रही थी. पुलिस जब उस पते पर पहुंची तो मकान मालिक प्रदीप ने बताया कि मुस्कान पिछले डेढ़ महीने से किराए पर रह रही थी, लेकिन 11 अगस्त को वह अचानक से कमरा खाली करके चली गई. वह अपनी मां और 2 साल की बेटी के साथ रहती थी. उससे मिलने के लिए अक्सर एक लड़का भी आता था, जो चश्मा लगाता था. पुलिस ने मुस्कान के मोबाइल नंबर की मदद से उसे तलाश लिया. वह खानपुर गांव में अपनी मां मीनू उर्फ त्रिसा और 2 साल की बेटी के साथ रह रही थी.

पति ने प्रेमी के साथ देख लिया था, इसलिए की गई हत्या

पुलिस ने मुस्कान से पूछताछ शुरू की तो शुरुआत में उसने जांच को गुमराह करने की कोशिश की. उसने बताया कि नवीन दिल्ली के दक्षिण पुरी का रहने वाला है. वह पिछले 4-5 साल से नवीन के साथ रिलेशनशिप में हैं और इस रिश्ते से उन्हें 2 साल की एक बेटी है. पिछले 7 महीनों से वे अलग-अलग रह रहे थे. वह देवली खानपुर में अपनी मां मीनू @ त्रिसा के साथ रहने लगी थी.

7 अगस्त की रात को नवीन उसके कमरे में आया. उस समय जमाल भी वहीं था. ये देख कर नवीन उससे झगड़ा करने लगा. जमाल और नवीन के बीच मारपीट शुरू हो गयी. जिसके बाद जमाल के दोस्त जो बाहर मौजूद थे, वे भी अंदर आ गए और फिर उन्होंने नवीन की हत्या कर दी. 8 अगस्त को रात के समय नवीन के शव को ऑटो में रख कर सुखदेव विहार के नाले के पास ले गए और शव को नाले में फेंक दिया.

यह भी पढ़ें.

तमिलनाडु विधानसभा में कृषि कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव पारित, स्टालिन बोले- किसानों पर दर्ज मामले वापस होंगे

Chennai: भारतीय तटरक्षक बल के समारोह में पहुंचे राजनाथ सिंह, निगरानी पोत ‘विग्रह’ को सेवा में करेंगे शामिल



Source link

बच्चों को ऑनलाइन गेम की लत लगाकर कराते थे चोरी, 75 हजार ठग कर हुए फरार

0


अगली
खबर

West Bengal में 15 सितंबर तक बढ़ाई गईं कोरोना पाबंदियां, रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेगा Night Curfew





Source link

Delhi School Reopen: सीएम केजरीवाल बोले- चलता रहेगा वैक्सीनेशन और राशन बांटने का काम

0


दिल्ली में 1 सितंबर से स्कूल खोलने का एलान दिल्ली सरकार ने कर दिया है. चरणबद्ध तरीके से दिल्ली में स्कूल खोलने की तैयारी सरकार कर रही है. पहले चरण में नवीं से बारहवीं क्लास तक के लिए स्कूल खोलने की घोषणा की गई है.

ऐसे में बड़ा सवाल ये भी है कि कोरोना काल में बन्द पड़े स्कूलों में सरकार ने वैक्सीनेशन ड्राइव चलाने की जो मुहिम शुरू की थी उसका क्या होगा? वैक्सीनेशन के अलावा दिल्ली में स्कूल परिसर का इस्तेमाल राशन बांटने के लिए भी किया जा रहा है. हालांकि अब इस पर तस्वीर साफ करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि जिन स्कूलों में राशन बांटने और वैक्सीनेशन का काम चल रहा है वो चलता रहेगा.

50 फीसदी से ज़्यादा वैक्सीनेशन दिल्ली के सरकारी स्कूलों में

दिल्ली में 900 से ज़्यादा सरकारी वैक्सीनेशन साइट्स पर वैक्सीन लगाई जा रही है जिसमें सरकारी स्कूल, सरकारी अस्पताल और डिस्पेंसरी शामिल हैं. जानकारी के मुताबिक इन वैक्सीनेशन साइट्स में करीब 50 फीसदी से ज़्यादा वैक्सीनेशन दिल्ली के सरकारी स्कूलों में चलाई जा रही है. जिसमें दिल्ली सरकार और नगर निगम के स्कूल शामिल हैं. इसके अलावा 272 सरकारी स्कूलों में राशन बांटने का काम किया जा रहा है.

कोरोना की शुरुआत के बाद से ही दिल्ली में स्कूलों का इस्तेमाल पका हुआ खाना और सूखा राशन बांटने के लिए किया जाता था. वैक्सीन आने के बाद वैक्सीनेशन ड्राइव में तेज़ी लाने के लिए दिल्ली सरकार ने बंद पड़े स्कूलों में वैक्सीनेशन सेंटर शुरू करने का एलान किया. इस तरह से लगातार सरकारी स्कूलों के इंफ्रास्ट्रक्चर और स्टाफ का इस्तेमाल कोविड सेवाओं में किया जाता रहा है.

हमारे पास पर्याप्त जगह है- मनीष सिसोदिया

हालांकि अभी स्कूल खुलने पर भी ये सेवाएं जारी रहेंगी या नहीं इस पर स्तिथि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने साफ कर दी है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जहां-जहां राशन बांटने का और वैक्सीनेशन का काम स्कूलों में चल रहा है वह चलता रहेगा. इन जगहों को बच्चों से थोड़ा अलग कर देंगे ताकि बच्चे उनके कांटेक्ट में ना आए क्योंकि अभी चार कक्षाओं की ही क्लासेस खुल रही है तो स्कूलों में जगह की बहुत ज्यादा समस्या नहीं है.

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि जहां-जहां स्कूलों में वैक्सीनेशन चल रहा है हमने उसकी पूरी समीक्षा कर ली है. कुछ ऐसे सेंटर हैं जहां ज्यादा क्लासरूम वैक्सीनेशन के काम में इस्तेमाल की जा रही हैं. ऐसी जगहों पर सेंटर कम कर लेंगे लेकिन क्योंकि अभी 9वीं से 12वीं के लिए ही स्कूल खोले जा रहे हैं तो हमारे पास पर्याप्त जगह है. स्कूलों में वैक्सीनेशन सेंटर अभी चलते रहेंगे क्योंकि क्लासरूम काफी हैं और नए भी बन गए हैं तो रूम की कमी हमारे पास नहीं है.

गौरतलब है कि दिल्ली में अब तक 1 करोड़ 30 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है जिसमें पहली और सेकेंड डोज़ दोनों शामिल हैं. वहीं 30 लाख से ज्यादा लोगों को सेकेंड डोज़ लगाई जा चुकी है. शुक्रवार को जब देशभर में रिकॉर्ड वैक्सीनेशन हुआ उस दिन दिल्ली में डेढ़ लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगी थी.

दिल्ली में स्थिति कंट्रोल में है- अरविंद केजरीवाल

देश के कुछ राज्यों में कोरोना के बढ़ते मामलों और नीति आयोग की रिपोर्ट में कोरोना की तीसरी लहर की संभावना के बीच दिल्ली सरकार का स्कूल खोलने का  निर्णय क्या सही है? इस पर जवाब देते हुए मुख्यमंत्री अरविंद ने कहा कि आज दिल्ली में स्थिति कंट्रोल में है. एक समय पेरेंट्स को भी यह चिंता थी वह कहते थे कि हमें बच्चों की चिंता है, अभी स्कूल मत खोलना. लेकिन अब पेरेंट्स भी आकर कहते हैं कि जल्दी-जल्दी स्कूल खोलें ताकि बच्चों की पढ़ाई शुरू हो सके.

अभी दिल्ली में 40 या 50 केस आ रहे हैं और हम 70 हज़ार टेस्ट रोज़ करते हैं. स्थिति अभी कंट्रोल में है लेकिन हम इस पर लगातार नजर रखेंगे. स्कूल धीरे-धीरे खोल रहे हैं अगर दोबारा बंद करने की जरूरत पड़ी तो देखते हैं. अगर स्थिति सामान्य रहती है तीसरी लहर नहीं आती है तो अच्छी बात है सारे स्कूल कॉलेज खुल जाएंगे…

स्कूल खुलने को लेकर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि 1 सितंबर की तैयारी है स्कूल, कॉलेज और कुछ संस्थान खुलेंगे. उसकी बकायदा SOP हम जारी करेंगे. किसी भी बच्चे को स्कूल आने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा. अगर कोई स्कूल नहीं आना चाहता और ऑनलाइन क्लास करना चाहता है तो उसको ऑनलाइन क्लास की भी सुविधा दी जाएगी.

यह भी पढ़ें.

तमिलनाडु विधानसभा में कृषि कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव पारित, स्टालिन बोले- किसानों पर दर्ज मामले वापस होंगे

Chennai: भारतीय तटरक्षक बल के समारोह में पहुंचे राजनाथ सिंह, निगरानी पोत ‘विग्रह’ को सेवा में करेंगे शामिल



Source link

Drugs Case: Armaan Kohli ने पूछताछ में दिए ऐसे जवाब, NCB ने लिया हिरासत में

0


नई दिल्ली: बॉलीवुड के दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के बाद से ही लगातार बॉलीवुड और ड्रग्स के कारोबार का गहरा कनेक्शन सामने आ रहा है. बीते साल से ड्रग्स के मामलों में बॉलीवुड की हस्तियों के नाम सामने आ रहे हैं. इस मामले में आज यानी शनिवार को एक्टर अरमान कोहली (Armaan Kohli) के घर पर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (Narcotics Control Bureau) ने छापमारे में की है. जिसके बाद अब NCB ने उन्हें हिरासत में ले लिया है. 

दिए ऐसे जवाब कि बढ़ी मुसीबत

ताजा अपडेट के अनुसार अरमान कोहली (Armaan Kohli) के घर से ड्रग्स बरामद हुई है. जिसके बाद उन्हें NCB के दफ्तर ले जाया गया है. अब अरमान से NCB के अधिकारियों ने उनसे पूछताछ की. एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक (मुंबई) समीर वानखेड़े ने जानकारी दी है कि छापेमारी के बाद अभिनेता अरमान कोहली (Armaan Kohli) ने NCB द्वारा पूछे गए सवालों के अस्पष्ट जवाब दिए. फिर उन्हें एनसीबी कार्यालय में पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया गया.

इस एक्टर के घर से भी बरामद हुई ड्रग्स

आपको याद दिला दें कि इससे पहले एनसीबी ने टीवी एक्टर गौरव दीक्षित (Gaurav Dixit) के घर छापेमारी की थी और वहां  से एमडी और चरस जैसे नशीले पदार्थ बरामद किए थे. उन्हें 30 अगस्त तक के लिए एनसीबी की हिरासत में भेज दिया गया है. दीक्षित को एनसीबी की मुंबई जोनल टीम ने शुक्रवार को गिरफ्तार किया था और उसे यहां एक मजिस्ट्रेट अदालत में पेश किया गया.

क्या बोले पब्लिक प्रोसेक्यूटर

NCB की ओर से पेश पब्लिक प्रोसेक्यूटर अद्वैत सेठना ने कहा कि मामला वाणिज्यिक मात्रा में गैरकानूनी नशीले पदार्थ की बरामदगी से संबंधित है और इसलिए दीक्षित से हिरासत में पूछताछ की आवश्यकता है. आरोपी की ओर से पेश वकील कुशल मोर ने दलील दी कि नशीले पदार्थों की जब्ती कम मात्रा में हुई थी और दीक्षित को जमानत पर रिहा किया जाना चाहिए. अदालत ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद आरोपी को 30 अगस्त तक एनसीबी की हिरासत में भेज दिया. 

एजाज खान से पूछताछ में नाम आया सामने

इस साल अप्रैल में अभिनेता एजाज खान और कुछ अन्य लोगों से पूछताछ में दीक्षित का नाम सामने आने के बाद से एनसीबी को पिछले कुछ महीनों से दीक्षित की तलाश थी. जांच एजेंसी ने उस समय लोखंडवाला में दीक्षित के घर की तलाशी ली थी और मादक पदार्थ जब्त किया था.

इसे भी पढ़ें: Nia Sharma लेस्बियन KISS से कर चुकी हैं बवाल, अब फिर लिपस्टिक के इस दाग ने खींचा सबका ध्यान

एंटरटेनमेंट की लेटेस्ट और इंटरेस्टिंग खबरों के लिए यहां क्लिक कर Zee News के Entertainment Facebook Page को लाइक करें





Source link

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- अफगानिस्तान के हालात मुश्किल, चुनौतियां बहुत हैं

0


PM Modi On Afghanistan: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को अफगानिस्तान के ताजा हालात को मुश्किल और चुनौतीपूर्ण करार देते हुए कहा कि वहां फंसे लोगों को सुरक्षित वापस लाने के लिए जी-जान से प्रयास किये जा रहे हैं. जलियांवाला बाग के पुनर्निर्मित परिसर का वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से उद्घाटन करने के बाद अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि आज जिस प्रकार की वैश्विक परिस्थितियां बन रही हैं, उससे एक भारत, श्रेष्ठ भारत के संकल्प के मायनों का भी एहसास होता है.

उन्होंने कहा, ‘‘यह घटनाएं हमें याद दिलाती हैं कि राष्ट्र के रूप में हर स्तर पर आत्मनिर्भरता और आत्मविश्वास दोनों जरूरी है.’’

पीएम मोदी ने कहा, “दुनिया में कहीं भी अगर भारतीय मुश्किल में होते हैं तो भारत हमेशा जी जान से उनकी मदद के लिए खड़ा रहता है. फिर चाहे वो कोरोना काल हो या अफगानिस्तान संकट, दुनिया इसे लगातार महसूस कर रही है. अफगानिस्तान के सैकड़ों दोस्तों को भारत लाया गया है.”

गुरबाणी की कुछ पंक्तियों का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह हमें सिखाती है कि सुख दूसरों की सेवा से ही आता है और हम सुखी तभी होते हैं जब हम अपने साथ-साथ अपनों की पीड़ा को भी अनुभव करते हैं. ऑपरेशन देवी शक्ति के तहत अफगानिस्तान से भारत लाए जा रहे लोगों का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘चुनौतियां बहुत हैं, हालात मुश्किल हैं लेकिन गुरु कृपा भी हम पर बनी हुई है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम लोगों के साथ पवित्र गुरु ग्रंथ साहब के स्वरूप को भी सिर पर रखकर भारत लाए हैं.’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसी परिस्थितियों (अफगानिस्तान की) से सताए हुए अपने लोगों के लिए देश में नए कानून भी बनाए गए हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘आज जिस प्रकार की वैश्विक परिस्थितियां बन रही हैं, उससे हमें यह एहसास भी होता है कि एक भारत श्रेष्ठ भारत के क्या मायने होते हैं. यह घटनाएं हमें याद दिलाती है कि राष्ट्र के रूप में हर स्तर पर आत्मनिर्भरता और आत्मविश्वास दोनों जरूरी है.’’

आजादी के 75 वर्ष के अवसर पर मनाए जा रहे अमृत महोत्सव का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने आह्वान किया, ‘‘हम अपने राष्ट्र की बुनियाद को मजबूत करें और उस पर गर्व करें. आजादी का अमृत महोत्सव आज इसी संकल्प को लेकर आगे बढ़ रहा है.’’

इससे पहले, प्रधानमंत्री ने अमृतसर में जलियांवाला बाग स्मारक स्थल पर विकसित कुछ संग्रहालय दीर्घाओं का भी उद्घाटन किया. लंबे समय से बेकार पड़ी और कम उपयोग वाली इमारतों का दोबारा अनुकूल इस्‍तेमाल सुनिश्चित करते हुए चार संग्रहालय दीर्घाएं निर्मित की गई हैं.

प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक यह दीर्घाएं उस अवधि के दौरान पंजाब में घटित विभिन्‍न घटनाओं के विशेष ऐतिहासिक महत्‍व को दर्शाती हैं. इन घटनाओं को दिखाने के लिए श्रव्य-दृश्य प्रौद्योगिकी के माध्यम से प्रस्तुति की व्यवस्था है जिसमें मैपिंग और थ्री डी चित्रण के साथ-साथ कला एवं मूर्तिकला अधिष्ठापन भी शामिल हैं.

School Reopen: 1 सितंबर से खुलेंगे 9वीं से 12वीं तक के स्कूल, दिल्ली सरकार ने कर्मचारियों के टीकाकरण का दिया निर्देश

UP Cabinet Expansion Exclusive List : यूपी में मंत्रिमंडल विस्तार जल्द, जितिन प्रसाद और संजय निषाद का मंत्री बनना तय



Source link