लखीमपुर हिंसा पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने के बाद राहुल गांधी ने सरकार से की ये दो मांग

0
10


Lakhimpur Kheri violence: लखीमपुर हिंसा के बाद जहां एक तरफ विपक्ष केन्द्र सरकार पर हमलावर है तो वहीं दूसरी तरफ सियासत लगातार तेज होती हुई दिख रही है. लखीमपुर हिंसा के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा के पिता और केन्द्रीय राज्य मंत्री के इस्तीफे को लेकर दबाव और तेज होता जा रहा है. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से लखीमपुर हिंसा पर मुलाकात की.

इसके बाद राहुल ने ट्वीट करते हुए कहा- अपराध के बाद जब सरकार व प्रशासन अन्याय करने लगें, तब आवाज़ उठाना ज़रूरी है. लखीमपुर अन्याय मामले में हमारी दो माँगें हैं- निष्पक्ष न्यायिक जाँच, गृह राज्य मंत्री की तुरंत बर्ख़ास्तगी ताकि न्याय हो!.

इससे पहले, संवाददाताओं से कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि पीड़ित चाहते हैं कि उन्हें इंसाफ मिले. उन्होंने कहा कि जिसने हत्या की है, उस व्यक्ति कि पिता हिन्दुस्तान के गृह मंत्री हैं, इसीलिए जब तक वह मंत्री हैं सही न्याय नहीं मिल सकता. राहुल ने कहा कि हमने ये बात राष्ट्रपति को बताई. उन्होंने कहा कि यह एक परिवार की नहीं बल्कि हिन्दुस्तान की आवाज है. राहुल ने आगे कहा कि अगर पिता मंत्री है तो निष्पक्ष जांच कैसे होगी?

केरल के वायनाड से सांसद ने आगे कहा कि हमने राष्ट्रपति से कहा कि मंत्री को उनके पद से हटाया जाना चाहिए और सुप्रीम कोर्ट के 2 सीटिंग जज के इन्क्वायरी होनी चाहिए. गौरतलब है कि कांग्रेस प्रतिनिधिनंडल इस घटना के तथ्यों से जुड़ा एक ज्ञापन भी राष्ट्रपति को सौंपा. कांग्रेस के पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल में राहुल गांधी के अलावा राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, वरिष्ठ नेता एके एंटनी, गुलाम नबी आजाद, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी शामिल थे.

प्रियंका बोलीं- गृह राज्य मंत्री हो बर्खास्त

इधर, राष्ट्रपति से मिलने के बाद प्रियंका गांधी ने कहा कि मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की गई है. प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि सबसे जरूरी बात यही है कि मामले की निष्पक्ष जांच हो. राष्ट्रपति ने हमें आश्वासन दिया है कि वह आज ही सरकार से इस मामले पर चर्चा करेंगे. हमने गृह राज्य मंत्री की बर्खास्तगी की मांग की है. कांग्रेस नेता ने कहा कि पीड़ित परिवार सिर्फ न्याय चाहते हैं. वो लोग सिटिंग जज से मामले की जांच की मांग कर रहे हैं. मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा के पिता केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त किया जाना चाहिए.

प्रियंका गांधी ने कहा कि उनकी (केंद्रीय गृह राज्य मंत्री) बर्खास्तगी की मांग कांग्रेस की मांग नहीं है, हमारे साथियों की मांग नहीं है, यह जनता की मांग है और पीड़ित किसान परिवारों की मांग है.

ये भी पढ़ें:

Lakhimpur Kheri Violence: राष्ट्रपति से मिला कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल, प्रियंका गांधी बोलीं- गृह राज्य मंत्री की बर्खास्तगी हो

Lakhimpur Kheri Violence: लखीमपुरी खीरी हिंसा को लेकर जानें क्या बोलीं केन्द्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here