महबूबा बोलीं- ‘खान’ सरनेम की वजह से आर्यन बना निशाना, दिल्ली पुलिस कमिश्नर से की गई शिकायत

0
7


नई दिल्ली: पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने केंद्रीय एजेंसियों पर बड़ा आरोप लगाया है. मुफ्ती ने कहा है कि बॉलीवुड स्टार शाहरूख खान (Shah Rukh Khan) के बेटे आर्यन खान (Aryan Khan) को सिर्फ उनके उपनाम के कारण केन्द्रीय एजेंसियों द्वारा निशाना बनाया जा रहा है. पीडीपी चीफ के इस बयान को लेकर अब दो वकीलों ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से कार्रवाई की मांग की है.

वकीलों ने महबूबा के बयान को बताया घृणा फैलाने वाला

महबूबा मुफ्ती की ओर से आर्यन खान को लेकर दिए बयान को दो वकीलों ने समाज में सांप्रदायिक आधार पर घृणा फैलाने वाला बताया है. वकील विनीत जिंदल और अक्षिता ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से एफआईआर दर्ज करने और सख्त कार्रवाई की मांग की है. मुफ्ती ने दावा किया कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) के ‘कोर’ मतदाताओं को खुश करने के लिए मुसलमानों को निशाना बनाया जा रहा है.

महबूबा मुफ्ती ने क्या कहा था?

महबूबा ने ट्वीट किया, ‘‘चार किसानों की हत्या के आरोपी केन्द्रीय मंत्री के बेटे के मामले में उदाहरण पेश करने के स्थान पर केन्द्रीय एजेंसियां 23 साल के युवक के पीछे पड़ी हैं, सिर्फ इसलिए क्योंकि उनका उपनाम खान है. न्यायपालिका का मखौल है कि बीजेपी के कोर मतदाताओं को खुश करने के लिहाज से मुसलमानों को निशाना बनाया जा रहा है.’’

महबूबा ने आशीष मिश्रा पर कसा था तंज

मुफ्ती केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पुत्र आशीष मिश्रा का संदर्भ दे रही थीं, जिन पर उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में किसानों को कुचलने का आरोप है. फिलहाल आशीष मिश्रा को तीन दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है.

यह भी पढ़ें-

Lakhimpur Kheri: हिंसा में मारे गए किसानों के लिये ‘अंतिम अरदास’ आज, लखीमपुर खीरी जाएंगी प्रियंका गांधी

केंद्र सरकार ने यूटी कैडर के IAS अधिकारी का जम्मू-कश्मीर में किया तबादला, अब तेज हुई ये चर्चा



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here