पोषक तत्वों की कमी से नसें भी हो सकती हैं खराब- रिसर्च

0
37

[ad_1]

New Study On Nerve health: अच्छी सेहत के लिए पोषक तत्वों से भरपूर डाइट की जरूरत होती है. हमारे शारीरिक और मानसिक विकास के लिए न्यूट्रीशन (Nutrition) बहुत जरूरी है. इसलिए विशेषज्ञ अक्सर अच्छी डाइट की सलाह देते हैं. बदलते लाइफस्टाइल के चलते लोग अच्छी और संतुलित डाइट नहीं ले पाते हैं. अच्छी डाइट नहीं लेने के कारण कई तरह की मानसिक और शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है. आमतौर पर लोग समझते हैं कि हमारी बॉडी सही से काम कर रही है, तो हम हेल्दी हैं लेकिन ऐसा नहीं है. बॉडी में अगर पोषक तत्वों की कमी हो जाए तो इससे न सिर्फ शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है बल्कि हमारी नसें भी खराब होने लगती हैं. इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के मुताबिक हैरानी की बात यह सामने आई है कि अधिकांश लोग नसों की खराबी के बारे में जानते ही नहीं. नस या तंत्रिका तंत्र (Nervous System) हमारे शरीर का महत्वपूर्ण हिस्सा है. नसें न हों तो हम थोड़ा भी मूव नहीं कर सकते हैं. पूरे शरीर में एक-दूसरे अंगों के साथ संपर्क कायम रखने का काम नसें ही करती हैं. नसें हमारी पूरी बॉडी को कंट्रोल करती हैं. इसलिए नसों का हेल्दी रहना बहुत जरूरी है.

इसे भी पढ़ेंः कैल्शियम सप्लीमेंट से फायदे की जगह नुकसान भी हो सकता है

नर्व हेल्थ के लिए विटामिन बी 12 जरूरी
हाल ही में देश के 12 शहरों में एक सर्वे हुआ है जिसमें पाया गया कि 60 प्रतिशत लोग नर्व हेल्थ के बारे में जानते ही नहीं थे. बॉम्बे हॉस्पिटल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस में न्यूरोलॉजी विभाग के प्रमुख डॉ सतीश खाडिलकर ने बताया कि अन्य कारणों के अलावा विटामिन बी की कमी खराब नसों के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार है. न्यूरोट्रॉपिक बी, विटामिन (neurotropic-B vitamins) नसों को हेल्दी रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. विटामिन बी 12 भी शरीर में ही बनता है लेकिन दिक्कत यह है कि कुछ लोग विटामिन बी 12 के लिए आवश्यक डाइट को लेते ही नहीं. इसलिए विटामिन बी 12 की कमी अन्य विटामिनों की तुलना में सबसे ज्यादा होती है. बुजुर्गों में विटामिन बी 12 की कमी सबसे ज्यादा होती है. इसलिए ज्यादातर बुजुर्गों की मूवमेंट सीमित हो जाती है.

इसे भी पढ़ेंः सर्दी-खांसी से लेकर जोड़ों के दर्द तक में आराम देती हैं अडूसा की पत्तियां, इस तरह करें इस्तेमाल

इन चीजों में मिलता है विटामिन बी 12
इस अध्ययन में यह भी पाया गया कि लोग नस या नर्व और रक्त वाहिकाओं (blood vessels) में अंतर भी नहीं कर पाते. सिर्फ 38 प्रतिशत लोगों को पता है कि रक्त वाहिकाएं और नसें अलग-अलग हैं. सर्वे के मुताबिक 73 प्रतिशत लोगों ने विटामिन बी 12 के लिए सब्जियों को उपयुक्त डाइट माना जबकि 69 प्रतिशत लोगों ने विटामिन बी 12 की कमी पूरा करने के लिए फलों को उपयुक्त माना जबकि ये दोनों ही धारणाएं गलत हैं. दरअसल, विटामिन बी 12 मांस, मछली, अंडा, फोर्टिफाइड अनाज, कम फैट वाला दूध, छांछ और चीज में पाया जाता है. इन चीजों के सेवन से शरीर की नसों की सेहत सही रहेगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here