BJP विधायक ने कार्यकर्ताओं से कहा- ‘तालिबानी स्टाइल’ में करें टीएमसी से मुकाबला, हुआ विवाद

0
22

[ad_1]

BJP MLA In Controversy: त्रिपुरा में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक अरूण चंद्र भौमिक ने कथित रूप से यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया है कि यदि तृणमूल कांग्रेस के नेता अगरतला हवाई अड्डे पर पहुंचते हैं तो उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं को ‘तालिबानी शैली’ में उनका मुकाबला करना चाहिए. हालांकि भाजपा ने कहा कि यह उसका नहीं, बल्कि विधायक का कथन है. 

तृणमूल कांग्रेस की नजर त्रिपुरा में 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव पर है और महासचिव अभिषेक बनर्जी समेत पार्टी नेता तृणमूल के वास्ते जनाधार तैयार करने एवं संगठन खड़ा करने के लिए बार बार इस पर्वतीय राज्य का चक्कर लगा रहे है. तृणमूल अब तक पश्चिम बंगाल में ही सीमित है.

बेलोनिया निर्वाचन क्षेत्र के विधायक अरूण चंद्र भौमिक ने कहा, ‘‘ तृणमूल कांग्रेस त्रिपुरा की बिप्लव कुमार देव नीत सरकार को नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रही है जो 25 साल के कम्युनिस्ट शासन को समाप्त करके सत्ता में आयी. यह सब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की शह पर हो रहा है.’’

अरूण चंद्र भौमिक ने बुधवार को दक्षिण त्रिपुरा जिले के बेलोनिया टाऊन हॉल में, केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल की गयी नयी केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री प्रतिमा भौमिक के अभिनंदन समारोह के दौरान यह टिप्पणी की.

उन्होंने कहा, ‘‘ मैं आप सभी से अपील करता हूं कि हमें तालिबानी शैली में उन पर हमला करने की जरूरत है. जब वे यहां हवाई अड्डे पर पहुंचते हैं तब हमें उन पर एक बार हमला करने की जरूरत है. हम खून के हर एक बूंद से बिप्लव कुमार देव की अगुवाई वाली सरकार की रक्षा करेंगे.’’

उनकी इस टिप्पणी का वीडियो सोशल मीडिया पर फैल गया है और लोग उसकी आलोचना कर रहे हैं. इस टिप्पणी पर प्रदेश तृणमूल नेता सुबल भौमिक ने भाजपा विधायक की गिरफ्तारी की मांग की. उन्होंने दावा किया, ‘‘ पश्चिम बंगाल के तृणमूल नेताओं को कल रात अगरतला में एक होटल में परेशान किया गया जहां वे ठहरे हुए हैं. यह घटना विधायक के भड़काऊ भाषण के बाद घटी.’’

इस बीच प्रदेश भाजपा प्रवक्ता सुब्रत चक्रवर्ती ने कहा कि अरूण चंद्र भौमिक का बयान उनका अपना बयान है और पार्टी का उस बयान से कोई लेना-देना नहीं है. उन्होंने कहा, ‘‘ यह पूरी तरह उनकी जिम्मेदारी है. यह भाजपा की संस्कृति नहीं है.’’

इस संबंध में संपर्क करने पर अरूण चंद्र भौमिक ने कहा, ‘‘ मैंने यह स्पष्ट करने के लिए ‘तालिबानी’ शब्द का इस्तेमाल किया कि जिस तरह तृणमूल कांग्रेस त्रिपुरा में भाजपा सरकार को नुकसान पहुंचाने का प्रयास कर रही है, उसके लिए तीखी प्रतिक्रिया की जरूरत है. ‘तालिबानी’ शब्द के इस्तेमाल से शायद कड़ा संदेश गया हो लेकिन मेरा मकसद सिर्फ यह बताना था कि कैसे गंभीर रूप से उनका मुकाबला करना है.’’ पिछले कुछ सप्ताहों के दौरान त्रिपुरा से भाजपा एवं तृणमूल कार्यकर्ताओं के बीच झड़प की खबरें आयी हैं.



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here