सर्दी में लंबे समय तक जीवित रह सकता है कोरोना वायरस

0
32


सर्दी के मौसम में वायरस लंबे समय तक सक्रिय रहता है.

एक रिपोर्ट में कहा गया है कि तापमान (Temperature) में गिरावट के साथ ही विभिन्न सतहों पर कोरोना वायरस लंबे समय तक जीवित रहेगा. सर्दी के मौसम में कोरोना (Corona Infection) से बचाव संबंधी सावधानियां बरतना ज्यादा जरूरी है.



  • Last Updated:
    December 29, 2020, 8:23 AM IST

कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के खिलाफ पूरी दुनिया में जंग जारी है. हर कोई इसी बात के इंतजार में है कि इस घातक संक्रमण (Infection) का कारगर इलाज बनाने वाली वैक्सीन (Vaccine) कब आएगी. भारत समेत कई देशों में ट्रायल चल रहे हैं और सब कुछ उम्मीद के मुताबिक रहा तो नए साल के शुरू में कोरोना की कारगर वैक्सीन आ जाएगी. इसके बाद टीके लगाने का काम शुरू होगा. इस बीच कोरोना संक्रमण (Corona Infection) को लेकर अनुसंधान का काम जारी है. हाल ही में की गई एक स्टडी में ‘ठंड के दौरान कोरोना वायरस के व्यवहार’ को लेकर कुछ नई जानकारियां सामने आई हैं, जिन्हें जानना हमारे लिए जरूरी है-

मेडिकल जर्नल बायोकेमिकल एंड बायोफिजिकल रिसर्च कम्युनिकेशंस में प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया है कि तापमान में गिरावट के साथ ही विभिन्न सतहों पर कोरोना वायरस लंबे समय तक जीवित रहेगा. वैज्ञानिकों ने कांच पर कोरोना वायरस के असर का अध्ययन किया है. सामान्य तापमान और कम तापमान को लेकर किए गए अध्ययन में पाया गया है कि सर्दी के मौसम में वायरस लंबे समय तक सक्रिय रहता है.

ये भी पढ़ें – मसालेदार खाना खाकर भी बढ़ाई जा सकती है बीमारियों से लड़ने की ताकतनमी वाली सतहों से रहें सावधान

वैज्ञानिकों ने लोगों को नमी वाली सतहों से सावधान रहने की सलाह दी है. myUpchar के अनुसार सर्दी के मौसम में कोरोना से बचाव संबंधी सावधानियां बरतना ज्यादा जरूरी होता है. सार्वजनिक स्थानों पर अनावश्यक रूप से सतहों को नहीं छूने से बचें. बच्चे और 65 साल से अधिक उम्र के लोग घर से बाहर जाते समय मास्क और ग्लब्स का इस्तेमाल करें. वहीं सैनीटाइजर का समय समय पर इस्तेमाल करें. एक सलाह यह भी दी जाती है कि जहां तक संभव हो, खिड़कियां खुली रखें. अमेरिका से जारी एक रिपोर्ट के अनुसार जहां वेंटिलेशन नहीं है, वहां कोरोना का खतरा अधिक है. आमतौर पर बार और रेस्त्रां में वेंटिलेशन बहुत अच्छा नहीं होता है, ऐसे में थोड़ा जागरूक रहना जरूरी है.

निमोनिया के लक्षण दिखाई दे तो करवाएं जांच

ठंड के दिनों में सर्दी जुकाम आम बात है. इन दिनों लोग बड़ी संख्या में निमोनिया का शिकार हो जाते हैं. यदि निमोनिया के लक्षण दिखाई दें, तो इसे हल्के में न लें. डॉक्टर को दिखाएं और जरूरी हो तो कोरोना की जांच करवाएं. वैसे कोरोना वायरस की सबसे खतरनाक बात यह है कि इसके लक्षण देरी से नजर आते हैं.

ये भी पढ़ें – हाइपरटेंशन का सेक्स लाइफ पर पड़ सकता है ये असर, जानें क्‍या रखें एहतियात

प्रदूषण से दूर रहें

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) की एक रिपोर्ट के अनुसार लंबे समय तक प्रदूषण के प्रभाव में रहने से कोविड-19 से मौत का खतरा बढ़ सकता है. वहीं सर्दी के दिनों में प्रदूषण का खतरा भी बढ़ जाता है. ऐसे में प्रदूषण से बचने के तमाम उपाय भी किए जाने चाहिए.

अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, कोरोना वायरस संक्रमण पढ़ें।

न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।








Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here