IND vs AUS: DRS को लेकर Sunil Gavaskar ने दिया बड़ा बयान, अंपायर्स कॉल को बताया बेकार

0
22


मेलबर्न: भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने डीआरएस (DRS) में अंपायर्स कॉल क्लॉज पर सवाल खड़े किए हैं. 

स्मिथ (Steve Smith) तीसरे दिन बुमराह की गेंद पर राउंड द लेग बोल्ड हो गए. हिप की तरफ आती गेंद को स्मिथ ने ऑफ स्टम्प की तरफ जाकर खेलने का प्रयास किया, लेकिन गेंद उनके हिप के पास से स्टम्प की गिल्लियां ले उड़ी. अगर यह गेंद उनके पैड पर लगती और एलबीडब्ल्यू की अपील की जाती और अंपायर को लगता कि यह आउट नहीं है, तो वह शायद आउट नहीं दिए जाते. यहां डीआरएस में अंपायर्स कॉल का उपयोग होता.

IND vs AUS: Tim Paine को आउट दिया तो Pujara को क्यूं नहीं! भड़के Matthew Wade

सुनील गावस्कर ने स्मिथ के बोल्ड को बताया बेमतलब

गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने एबीसी स्पोर्ट से कहा, ‘मुझे लगता है कि स्मिथ जिस तरह से आउट हुए उससे पता चलता है कि अगर गेंद स्टम्प्स के ऊपर भी लगती है, तो इसकी स्पीड इतनी होती है कि यह गिल्लियों को उड़ा सकती है. अगर आप एलबीडबल्यू की अपील कर रहे हैं और गेंद स्टम्प्स के ऊपरी हिस्से में लगती है. तो स्पिनर की गेंद में भी स्पीड इतनी होती है कि गिल्लियां उड़ सकती हैं’.

‘अंपायर्स कॉल’ क्लॉज बॉल ट्रेकिंग टेक्नोलॉजी में तब आता है, जब मामला काफी करीबी हो और फैसला मैदानी अंपायर के फैसले को बनाए रखता है.

उन्होंने कहा, ‘अगर ऐसा हर बार आउट दिया जाता है तो, हम मैच को जल्दी खत्म होते हुए देखेंगे’.

सचिन तेंदुलकर की ICC से मांग

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने आईसीसी (ICC) से डीआरएस (DRS) में अंपायर्स कॉल (Umpire’s Call) की संपूर्ण समीक्षा करने की मांग की है.

ऑस्ट्रेलियाई टीम पर भड़के Ricky Ponting, बल्लेबाजों को बुरी तरह लताड़ा 

गेंदबाजी टीम के लिए यही अच्छी बात होती है कि वह अपना रिव्यू नहीं गंवाती है. सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘खिलाड़ी इसलिए रिव्यू लेते हैं क्योंकि वो मैदानी अंपायर के फैसले से नाखुश होते हैं. आईसीसी को डीआरएस प्रणाली खासकर अंपायर्स कॉल (Umpire’s Call) की संपूर्ण समीक्षा करने की जरूरत है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here