महाराष्ट्र: कांग्रेस नेता असलम शेख ने BMC को लिखी चिट्ठी, सालों से पद पर बने अफसरों के तबादले की मांग की

0
20


मुंबई: कांग्रेस मंत्री और गार्डियन मिनिस्टर असलम शेक ने बीएमसी पर बड़ा आरोप लगाया है. असलम ने बीएमसी कमिश्नर को पत्र लिखकर ‘बीएमसी में सालों से ऑफिसर्स सिंडिकेट’ होने का बात की है. उन्होंने अपने पत्र में बीएमसी कमिश्नर से ऐसे अफसरों की तबादले की मांग की है जो सालों से एक ही पद पर बने हुए है और उसका दुरुपयोग कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि, “मैंने पत्र केवल बीएमसी कमिश्नर को ही नहीं बल्कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जी को भी लिखा है. उसने सालों से बीएमसी के पद पर बने हुए अफसरों के तबादले की बात की है. फिर चाहे वो अफसर बीएमसी का हो एमएमआरडीए का हो एसआरए का या फिर एमएएचएडीए का हो. इन सभी जगहों पर बैठे अफसरों का जल्द तबादला होना चाहिए.”

उन्होंने आगे कहा, “एक अधिकारी जब ज्यादा समय तक एक पद पर बना रहता है तो जाहिर है कि वहां एक सिंडिकेट काम करने लगता है. मैंने पत्र लिखर इसी सिंडिकेट में बदलाव करने की मांग की है. बदलाब की शुरआत एक दम निचले स्थर से करना जरूरी है. क्लर्क से लेकर उच्च अधिकारी तक यह बदलाव होना चाहिए.”

महापालिका या किसी भी कार्यालय में अगर इस तरह से नियमों को ताक पर रखकर लोग सालों अपने पदों पर बने रहेंगे और सालों तक एक ही पद पर रखर काम करेंगे तो मैं हमेशा उसका विरोध करूंगा. एक मंत्री होने के नाते मेरी यह कर्तव्य है.

उन्होंने कहा कि, “बीएमसी क्षेत्र में जितने भी आमदार, खासदार और नेता है सभी को जनता के हित में काम करना चाहिए और अगर ये कुछ गलत करते हैं तो उनके खिलाफ कार्यवाही होनी चाहिए. बात अगर बीएमसी में कांग्रेस बनाम शिवसेना की हो तो मैं यह स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि मेरा पत्र सही और गलत को लेकर है. पालक मंत्री होने के नाते मैंने अपने अधिकारों का इस्तेमाल किया है और इस पत्र के जरिए बीएमसी के ऐसे अफसरों को हटाने की मांग की है जो इन पदों पर सालों से बने हुए है और एक सिंडिकेट के रूप में काम कर रहे हैं.”

आपको बता दें, ये पहली बार नहीं है जब असलम शेख ने बीएमसी से जुड़े मुद्दों पर सवाल उठाएं हैं. इससे पहले भी असलम शेख ने कई कॉर्पोर्टर्स के काम करने को लेकर बीएमसी कमिश्नर इक़बाल सिंह चहल को पत्र लिखा जिस पर बीएमसी से कोई जवाब न मिलने पर असलम शेख ने कमिश्नर की कर्यप्रणाली पर सवाल उठाए थे. कहा ये भी गया था कि इक़बाल चहल ने इसकी शिकायत कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से की थी. उसके बाद से यह दूसरी बार है कि असलम शेख ने बीएमसी कमिश्नर को पत्र लिखा है और बीएमसी में ऑफिसर्स सिंडिकेट का आरोप लगाया है.

यह भी पढ़ें.

किसानों के साथ सुलह की कवायद, सरकार ने अगले दौर की बातचीत के लिए 30 दिसंबर को बुलाया

पीएम मोदी ने 100वीं किसान रेल को दिखाई हरी झंडी, कहा- पश्चिम बंगाल के लाखों किसानों को होगा फायदा



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here