मशहूर अर्थशास्त्री ईशर जज आहलूवालिया का 74 साल की उम्र में निधन, कैंसर से थीं पीड़ित

0
48


नई दिल्ली: पद्म भूषण से सम्मानित प्रख्यात अर्थशास्त्री डॉ ईशर जज आहलूवालिया का आज निधन हो गया. 74 साल की ईशर जज आहलूवालिया कैंसर से पीड़ित थीं. उनका विवाह योजना आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया से हुआ था. उन्हें शिक्षा और साहित्य के क्षेत्र में उनकी सेवाओं के लिए 2009 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था.

आहलूवालिया दिल्ली के थिंक टैंक इंडियन काउंसिल फॉर रिसर्च ऑन इंटरनेशनल इकोनॉमिक रिलेशंस (ICRIER) की चेयरपर्सन थीं. जैसे ही उनकी मौत की खबर आई, सोशल मीडिया पर कई लोगों ने उन्हें श्रद्धांजलि देने वालों की बाढ़ आ गयी.

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने उन्हें “भारत के सबसे प्रतिष्ठित अर्थशास्त्रियों में से एक” के रूप में याद किया. “डॉ. ईशर जज अहलूवालिया के निधन से दुखी होकर, वह भारत के सबसे प्रतिष्ठित अर्थशास्त्रियों में से एक थे. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने लिखा, अपने अंतिम कार्यकाल में उन्हें राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष के रूप में शामिल होने का सौभाग्य मिला. मोंटेक जी के प्रति हार्दिक संवेदना.

बायो टेक्नोलॉजी की दिग्गज किरण मजूमदार-शॉ ने अपनी और डॉ, आहलूवालिया की एक साथ एक तस्वीर साझा की. उन्होंने डॉ अहलूवालिया की “कैंसर के साथ लड़ाई” को याद किया. उन्होंने लिखा, ”ईशर अहलूवालिया, मेरी प्यारी दोस्त और एक शानदार अर्थशास्त्री का कैंसर के साथ एक जोरदार लड़ाई के बाद निधन हो गया. मोंटेक सिंह अहलूवालिया के प्रति गहरी संवेदना. हमेशा उनकी याद आएगी.”

पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने ट्वीट किया: “ईशर अहलूवालिया जिनका अभी निधन हो गया, वे भारत की प्रतिष्ठित अर्थशास्त्रियों में से ए थीं. MIT से PhD और एक प्रभावशाली पुस्तक ‘इंडस्ट्रियल ग्रोथ इन इंडिया’ की लेखक थीं. उन्होंने ICRIER का निर्माण किया, जो एक अच्छा आर्थिक थिंक टैंक है. मोंटेक की पत्नी होने के अलावा उनकी अपनी अलग पहचान थी.”

य़ह भी पढ़ें

NCB की जांच में श्रद्धा कपूर का बड़ा खुलासा- फिल्म के सेट पर, वैनिटी वैन में ड्रग्स लेते थे सुशांत सिंह राजपूत
बिहार चुनाव और गुप्तेश्वर पांडेय का जिक्र करते हुए रिया चक्रवर्ती के वकील ने कही ये बात





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here