IPL 2020: पृथ्वी शॉ ने लगाया तूफानी अर्धशतक, दूसरी गेंद में आउट होने के सवाल पर कही ये बात

0
67


IPL 2020: पृथ्वी शॉ की शानदार पारी, चेन्नई के खिलाफ लगाया अर्धशतक

पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ 43 गेंदों में 64 रनों की पारी खेली, 9 चौके और एक छक्का लगाया.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 25, 2020, 10:17 PM IST

नई दिल्ली. इंडियन प्रीमियर लीग 2020 के 7वें मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स के युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने अपने बल्ले की धमक दिखाई. शॉ ने शानदार अर्धशतक ठोक अपनी टीम को 175 रनों के स्कोर तक पहुंचाया. शॉ ने चेन्नई के खिलाफ 43 गेंदों में 64 रनों की पारी खेली. उनके बल्ले से 9 चौके और एक छक्का निकला. शॉ का स्ट्राइक रेट 148 से ज्यादा का रहा. पृथ्वी शॉ का ये आईपीएल में पांचवां अर्धशतक है और इसके साथ ही उन्होंने एक खास कारनामे को भी अंजाम दिया.

पृथ्वी शॉ का खास कारनामा
पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने दिल्ली के खिलाफ शानदार पारी के साथ ही 21 साल की उम्र से पहले पांच 50 या उससे ज्यादा रनों की पारियां खेलने का कारनामा किया. 21 से कम की उम्र में उनसे ज्यादा 9 पारियां सिर्फ ऋषभ पंत ने खेली हैं. शॉ ने इस मामले में संजू सैमसन, शुभमन गिल और श्रेयस अय्यर को पछाड़ दिया. इन तीनों बल्लेबाजों ने 21 की उम्र से पहले 4 अर्धशतक लगाए थे.

पृथ्वी शॉ को मिला भाग्य का साथबता दें चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ शॉ को अगर भाग्य का साथ नहीं मिलता तो वो अर्धशतक तो छोड़िये खाता तक नहीं खोल पाते. पृथ्वी शॉ दीपक चाहर की दूसरी ही गेंद पर आउट हो गए थे. गेंद ने उनके बल्ले का अंदरूनी किनारा लिया था और धोनी ने कैच लपक ली थी लेकिन धोनी और चाहर दोनों ने अपील नहीं की. बाद में स्निको मीटर में दिखा कि गेंद ने शॉ के बल्ले का अंदरूनी किनारा लिया था.

IPL 2020: एमएस धोनी 39 साल की उम्र में बने ‘सुपरमैन’, 9 फीट दूर गेंद को लपका

हालांकि पृथ्वी शॉ ने पहली पारी खत्म होने के बाद कमेंटेटर्स से बातचीत के दौरान कहा कि उन्हें भी बल्ले के किनारा लगने के बारे में नहीं पता चला था. शॉ ने अपनी पारी पर कहा, ‘हमें धीमी शुरुआत मिली, लेकिन इसके बाद हमने अपने शॉट खेले. मुझे लगा कि मैं अपना स्वाभाविक खेल खेलूंगा. मैंने ग्राउंड शॉट्स खेलने का प्रयास की. तेज गेंदों से मदद मिली.’ उन्होंने कहा, ‘रिकी पॉन्टिंग ने पिछले मैच में बात की थी. पॉन्टिंग ने कहा था कि पावरप्ले में ज्यादा विकेट नहीं देने हैं. हमने सोच-समझकर रिस्क लिया. पंजाब के मैच में थोड़ा अलग था.’





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here