लॉकडाउन के दौरान घर का सारा काम करते थे युवराज सिंह, जसप्रीत बुमराह से सीखा था पोछा लगाना

0
18


युवराज सिंह ने सुनाई लॉकडाउन की कहानी

युवराज सिंह (Yuvraj Singh) लॉकडाउन के दौरान अपने घर पर थे जहां उन्होंने कई पंजाब के खिलाड़ियों को भी आसरा दिया हुआ था

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 25, 2020, 2:04 PM IST

नई दिल्ली. पूर्व भारतीय ऑलराउंडर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) लॉकडाउन के दौरान कई क्रिकेटर्स के लिए मसीहा बनकर सामने आए थे. उन्होंने पंजाब के कई खिलाड़ियों को इस दौरान अपने घर में जगह दी. युवराज ने लॉकडाउन में इसके अलावा घरेलू काम भी सीखा. करोड़ों रुपए की कमाई करने वाले इस खिलाड़ी ने लॉकडाउन में झाडु लगाने से लेकर बर्तन धोना सीखा.

जसप्रीत बुमराह से सीखा पोछा लगाना
युवराज सिंह ने इकोनॉमिक टाइम्स को दिए इंटरव्यू में अपने लॉकडाउन की कहानी सुनाई. युवी ने कहा, ‘मैंने लॉकडाउन के दौरान कई किताबें पढ़ीं, कई फिल्में देखी. इस समय में ऐसा लग रहा था कि मैं किसी और ही दुनिया में चला गया हूं. सिर्फ यही नहीं मैंने घर के जरूरी काम भी सीखे. मैं बर्तन धोता था, झाड़ू-पोछा लगाता था. पोछा लगाने की टेक्निक मैंने जसप्रीत बुमराह ( भारतीय तेज गेंदबाज) से सीखी. ‘ क्रिकेट से दूर रहने के बावजूद युवराज सिंह ने फिटनेस का साथ नहीं छोड़ा. लॉकडाउन के दौरान उन्होंने कई तरह के खेल ट्राई किए. युवराज ने कहा, ‘मैं हर दिन वर्कआउट करता था. हफ्ते में पांच-छह बार ट्रेनिंग करता था. मैंने ओलिंपिक लिफ्टिंग भी ट्राइ किया.’

अपना रेस्त्रां खोलना चाहते हैं जसप्रीत बुमराहयुवराज ने सिंह ने इस इंटरव्यू का भी खुलासा किया कि वह चाहते हैं कि आने वाले समय में उनका अपना रेस्त्रां हो. अपने पसंदीदा खाने के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘मुझे जलेबी बहुत पसंद है और उसे मैं आसानी से बर्न भी कर सकता हूं. मुझे साउथ इंडियन खाना बहुत पसंद है खासकर डोसा. वीगन होने के कारण मेरे पास बहुत ज्यादा विकल्प तो नहीं है. मुझे उम्मीद है कि आने वाले समय में मेरा अपना रेस्त्रां होगा.’

युवराज सिंह का करियर
युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने भारत के लिए 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी20 मैच खेले हैं. युवराज सिंह ने टेस्ट क्रिकेट में 3 शतकों की मदद से 1900 रन बनाए हैं. वनडे में उन्होंने 36.5 की औसत से 8701 रन बनाए. टी20 में युवी के बल्ले से 1177 रन निकले. युवराज सिंह ने भारत को वर्ल्ड कप 2011 और टी20 वर्ल्ड कप 2007 जिताने में सबसे अहम भूमिका अदा की थी.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here