Fit India: PM मोदी से बोले कोहली- फिटनेस के लिए छोड़ दिया फास्ट फूड, अफशां ने धोनी से लिया इंस्पिरेशन

0
21


पीएम नरेंद मोदी ने फिट इंडिया मूवमेंट के मौके पर विराट कोहली, अफशां आशिक और देवेंद्र झाझरिया से बात की.

प्रधानमंत्री नरेंद मोदी (PM Narendra Modi) ने फिट इंडिया मूवमेंट (Fit India Movement) की वर्षगांठ पर देश के चुनिंदा लोगों से बात की, जो फिटनेस के लिए भी जाने जाते हैं. इनमें क्रिकेटर विराट कोहली, महिला फुटबॉलर अफशां आशिक (Afshan Ashiq) और दो बार के पैरालिंपिक स्वर्ण पदक विजेता देवेंद्र झाझरिया (Devendra Jhajharia) शामिल हैं.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 24, 2020, 2:55 PM IST

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने फिट इंडिया मूवमेंट (Fit India Movement) की पहली वर्षगांठ के मौके पर गुरुवार को देश के चुनिंदा लोगों से बात की, जो अपनी फिटनेस के लिए भी जाने जाते हैं. जब बात फिटनेस की हो तो भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली (Virat Kohli) का नाम कैसे पीछे रहता. पीएम मोदी (PM Modi) ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए विराट कोहली, महिला फुटबॉलर अफशां आशिक, दो बार के पैरालिंपिक स्वर्ण पदक विजेता देवेंद्र झाझरिया (Devendra Jhajharia), पूर्व खिलाड़ी व अभिनेता मिलिंद सोमन जैसे हस्तियां बात की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने विराट कोहली से बात करते हुए कहा कि आपका तो नाम भी विराट और काम भी विराट. विराट वहीं, कोहली ने कहा, ‘हम जिस पीढ़ी में खेलने लगे, तो खेल की डिमांड बदल गई थी. हमारा सिस्टम और खानपान खेल के लिए सही नहीं था और खेल की वजह से मुझे काफी कुछ बदलना पड़ा.’  पीएम मोदी ने कोहली से पूछा कि आपकी फिटनेस की वजह से दिल्ली के छोले भटूरे का नुकसान हुआ होगा? कोहली ने कहा, ‘मुझे आज भी याद है दिल्ली के छोले भटूरे. किशोराव्स्था में हम सारे पैकेज्ड फूड्स खाते थे. हालांकि, यह मेरे स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं था और इसमें बदलाव की जरूरत थी. इसलिए मैंने ऐसा खाना छोड़ दिया और एक्सरसाइज पर फोकस करने लगा ताकि पूरी तरह फिट रहूं.’

प्रधानमंत्री ने जम्मू कश्मीर की महिला फुटबॉलर अफशां आशिक से भी बात की. अफशां आशिक ने कहा कि बतौर खिलाड़ी उन्हें शारीरिक और मानिसक दोनों रूप से फिट रहना होता है. इसके लिए एक्सरसाइज से लेकर वह सब उपाय करने होते हैं, जो फिट रहने के लिए जरूरी हैं. अफशां ने कहा कि उन्होंने एमएस धोनी को देख-देखकर बहुत कुछ सीखा है.

दो बार के पैरालंपिक स्वर्ण पदक विजेता देवेंद्र झाझरिया ने पीएम मोदी से बात करते हुए बचपन में हुए हादसे के बारे में बताया. उन्होंने कहा, ‘नौ साल की उम्र में एक एक्सीडेंट में मेरे हाथ चले गए थे. लेकिन मेरी मां ने मुझे हौसला दिया. इसके बाद ही मैंने फिर से खेल की शुरुआत की.’ देवेंद्र झाझरिया ने पीएम मोदी को फिट इंडिया मूवमेंट शुरू करने के लिए धन्यवाद किया. देवेंद्र झाझरिया ने पीएम मोदी को बताया कि उन्होंने साइकिल के टायर के ट्यूब से एक्ससाइज करना शुरू किया था. वे आज भी लगातार कंधे की एक्सरसाइज करते हैं ताकि लगातार काम किया जा सके.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here