IPL2020: डेब्यू मैच में छाए आरसीबी के देवदत्त, हैदराबाद को धोकर बनाया ये रिकॉर्ड

0
39


नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें सीजन में अपना भाग्य संवरने की उम्मीद लगा रही रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Chalangers Banglore) की टीम ने पहले ही मैच में सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के खिलाफ जोरदार शुरुआत की. इसके लिए जिम्मेदार रहा वो युवा क्रिकेटर, जो इस मैच के साथ दुनिया के सबसे ग्लैमर्स क्रिकेट प्लेटफार्म पर अपना डेब्यू कर रहे थे. ये क्रिकेटर हैं देवदत्त पड्डीकल (Devdutt Padikkal), जिन्होंने अपने पहले ही मैच में जोरदार फिफ्टी लगाकर न केवल आरसीबी को जोरदार शुरुआत दी बल्कि कई रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिए.

बने 10 साल बाद आईपीएल में फिफ्टी से डेब्यू करने वाले पहले भारतीय
देवदत्त पड्डीकल ने जोरदार बल्लेबाजी करते हुए 42 गेंद में 56 रन की जोरदार पारी खेली. इसमें उन्होंने 8 चौके लगाए और आरोन फिंच (Aaron Finch) के साथ पहले विकेट के लिए 11 ओवर में 90 रन की साझेदारी की. इसी के साथ देवदत्त आईपीएल में फिफ्टी के साथ डेब्यू करने वाले 10 साल में पहले भारतीय बल्लेबाज हो गए. उनसे पहले आईपीएल में आखिरी बार ये कारनामा  करने वाला भारतीय बल्लेबाज केदार जाधव (Kedar Jadhav) थे, जिन्होंने आईपीएल-2010 में ऐसा काम किया था. इतना ही नहीं आईपीएल में ये कारनामा करने वाले देवदत्त आरसीबी के महज दूसरे बल्लेबाज हैं. उनसे पहले आईपीएल-2008 में श्रीवत्स गोस्वामी ने ही आरसीबी के लिए ये रिकॉर्ड बनाया था.

19 बल्लेबाजों ने लगाई हैं आईपीएल में डेब्यू फिफ्टी
आईपीएल में देवदत्त कुल मिलाकर डेब्यू मैच में फिफ्टी बनाने वाले वे 19वें बल्लेबाज और 8वें भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं. आईपीएल में अब तक 2008 में गौतम गंभीर, ब्रैंडन मैकुलम, माइक हसी, होप्स, कुमार संगकारा, शिखर धवन, ग्रीम स्मिथ, असनोदकर, शॉन मार्श, विद्युत, श्रीवत्स गोस्वामी ने फिफ्टी से डेब्यू किया था. इसके बाद आईपीएल-2009 में डेविड वार्नर (David Warner) ने ये रिकॉर्ड बनाया था. आईपीएल-2010 में केदार जाधव के अलावा ओवेस शाह, अंबाती रायुडु और पॉल कोलिंगवुड ने फिफ्टी से डेब्यू किया था. आईपीएल-2012 में लेवी ने ये रिकॉर्ड बनाया तो आखिरी बार आईपीएल-2016 में ये रिकॉर्ड सैम बिलिंग्स (Sam Billings) ने अपने नाम किया था.

अनूठे हैं देवदत्त, हर लेवल की क्रिकेट में फिफ्टी से डेब्यू किया
देवदत्त ने केवल आईपीएल में ही फिफ्टी से डेब्यू नहीं किया था बल्कि उन्होंने हर स्तर की क्रिकेट में अपने डेब्यू मैच में इसी तरह के प्रदर्शन का अनूठा रिकॉर्ड बनाया हुआ है. देवदत्त ने 2018 में अपना प्रथम श्रेणी क्रिकेट में डेब्यू करते हुए महाराष्ट्र के खिलाफ रणजी ट्रॉफी मैच में 7 और 77 रन के स्कोर बनाए थे. 2019 में लिस्ट-ए करियर का डेब्यू करते हुए झारखंड के खिलाफ 58 रन का स्कोर बनाया था. 2019 में ही टी20 करियर का डेब्यू करते हुए उत्तराखंड की टीम के खिलाफ नॉटआउट 53 रन की पारी खेली थी.

सबसे कम उम्र में आईपीएल डेब्यू फिफ्टी में दूसरे नंबर पर
देवदत्त ने 20 साल 76 दिन की उम्र में फिफ्टी लगाकर आईपीएल में डेब्यू किया है. वे उम्र के लिहाज से ये कारनामा करने वाले दूसरे सबसे युवा बल्लेबाज बन गए हैं. उनसे कम उम्र में श्रीवत्स गोस्वामी ने आईपीएल-2008 में फिफ्टी लगाकर डेब्यू किया था. श्रीवत्स की उम्र तब 19 साल 1 दिन की थी. शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने 22 साल 136 दिन और डेविड वार्नर ने 22 साल 187 दिन की उम्र में फिफ्टी से अपना आईपीएल डेब्यू किया था. 

पिछले साल छाए रहे थे घरेलू क्रिकेट में
केरल में जन्मे लेकिन कर्नाटक के लिए घरेलू क्रिकेट में खेलने वाले देवदत्त ने पिछले साल घरेलू क्रिकेट के सीमित ओवर के मैचों में अपना जलवा दिखाया था. 50 ओवर के मैचों वाली विजय हजारे ट्रॉफी में देवदत्त 11 पारी में 67.66 के औसत के साथ 609 रन बनाकर पहले नंबर पर रहे थे. इसमें उन्होंने 2 शतक और 5 फिफ्टी लगाई थीं. अब बात करते हैं सैयद मुश्ताक अली टी20 ट्रॉफी की. इसमें भी देवदत्त ने सबसे ज्यादा रन बनाए थे. उनके नाम पर 12 पारी में 64.44 के औसत और 175.75 के जबरदस्त स्ट्राइक रेट के साथ 580 रन दर्ज किए गए थे. इसमें उन्होंने 1 शतक और 5 फिफ्टी अपने खाते में दर्ज की थी. उनके इस जबरदस्त प्रदर्शन की बदौलत कर्नाटक की टीम हर तरफ छाई रही थी.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here