Sushant Case EXCLUSIVE: वो बैंक डिटेल्स जिससे इस केस की कई परतें खुल जाएंगी

0
73


नई दिल्ली: दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के सुसाइड केस में Zee News लगातार चौंकाने वाले खुलासे कर रहा है. सुशांत सिंह केस से जुड़ी वो बैंक डिटेल्स अब हमारे हाथ लगी हैं, जिससे इस केस की कई परतें खुल जाएंगी. इस बैंक डिटेल्स से ये पता चल जाएगा कि सुशांत ने मौत से पहले कितने पैसे कहां-कहां खर्च किए. इसमें सुशांत की पाई-पाई का हिसाब है.

‘छिछोरे’ पार्टी के लिए 40 हजार का खर्च
इन बैंक डिटेल्स में इस बात के सबूत हैं कि 28 मार्च 2019 को सुशांत के पवाना फार्म हाउस पर फिल्म ‘छिछोरी’ की पार्टी हुई. 28 मार्च को ही पावना ‘छिछोरे’ पार्टी के लिए 40 हजार खर्च होने की जानकारी देखी जा सकती हैं. 

No description available.

No description available.

सारा के बाद एक और अभिनेत्री का नाम आ सकता है सामने
इसके अलावा एनसीबी सूत्रों ने ये भी दावा किया है कि इस पार्टी में ड्रग्स का इस्तेमाल किया गया था. इस पार्टी में ही बॉलीवुड की एक एक्ट्रेस ने भी ड्रग्स का सेवन भी किया था. रिया चक्रवर्ती और दीपेश शाह ने NCB की पूछताछ में उस अभिनेत्री के नाम का खुलासा किया है. जल्द इस अभिनेत्री की भी मुश्किलें बढ़ने वाली हैं यानी सारा अली खान के बाद यह अभिनेत्री भी अब NCB की रडार पर हैं.

फिल्मी करियर में सुशांत ने कुल 60 करोड़ रुपए कमाए थे
इस बैंक अकाउंट की नॉमिनी सुशांत की बहन प्रियंका हैं. सुशांत ने अपने पूरे फिल्मी करियर में 60 करोड़ रुपए कमाए थे. उसने मलाड इलाके में अपने और अंकिता लोखंडे के नाम से करीब 3 करोड़ का प्लॉट खरीदा था. सुशांत की मौत तक उसके अकाउंट के करीब ढाई से तीन करोड़ रुपये बचे थे. 

सुशांत के एक्सक्लूसिव नोट 
इसके अलावा ज़ी न्यूज की टीम को सुशांत सिंह राजपूत के हाथ के लिखे कुछ नोट एक्सक्लूसिव मिले हैं. ये सभी नोट वर्ष 2018 के हैं. ये नोट्स सुशांत सिंह राजपूत के पवाना फार्महाउस से बरामद किया गया है. इन नोट्स में सुशांत ने कई अहम बातें लिखी हैं. उन्होंने अपने रुटीन और फ्यूचर प्लान्स का जिक्र किया है. 

एक जगह उन्होंने लिखा-
– कोई सही जवाब नहीं है. 
– कुछ बेहतर सवाल हैं.
– परेशानी को हल कैसे करना है. 
– खुशी ही क्यों है. 

सुशांत ने नोट्स में बहुत सारी चीजें लिखी हैं, जो स्पष्ट नहीं हैं, जैसे- 
-अनुभव, विश्लेषण, आनंद, साहस
-प्रतिभा और पवित्रता 

इसके बाद का एक पन्ना हिंदी में लिखा है- 
-जो छोटी-छोटी हरकतों से बहुत बताने की तमीज और साहस रखते हैं, वही कल का निर्माण करेंगे.

इन पन्नों में सबसे अहम बात है कैलाश यात्रा की. एक पेज में उस यात्रा के पड़ावों बारे में लिखा है- 
-योगा, तपस्या, सोमरस और फिर कैलाश. 

इसके ही नीचे उन्होंने तीसरी आंख और मस्तिष्क की एक ग्रंथि के बारे में भी लिखा है. एक पन्ने में टेनिस, तीरंदाजी के लिए टाइम फिक्स किया था. इन सब कामों को सुशांत 4 घंटे में निपटाने का शेड्यूल बनाकर चल रहे थे.

सुशांत ने एक नोट में कुछ महान लोगों के विचार भी लिखे हैं-
-कबीर का दोहा लिखा- जब मैं था, तब हरि नहीं, अब हरि है मैं नाहि। 

इसके अलावा मोमिन की लाइन लिखी है-
-‘तुम मेरे पास होते हो गोया, जब कोई दूसरा नहीं होता’

इनके अलावा 2018 के इन नोट्स में नीति आयोग की पॉलिसी INSAI, नासा और सुशांत फॉर एजुकेशन का जिक्र है. INSAI वो कंपनी है, जिसे सुशांत ने 2018 में वरुण माथुर से साथ मिलकर बनाया था. बड़ी बात ये है कि इन नोट्स में एक जगह कृति का जिक्र है, ये कृति कौन है, मालूम नहीं, लेकिन रिया चक्रवर्ती का कहीं भी जिक्र नहीं है, एक भी जगह रिया की चर्चा नहीं की. (इनपुट: राकेश त्रिवेदी का भी)

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें

ये भी देखें-





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here