ENG VS AUS: ऑस्ट्रेलिया ने वनडे सीरीज 2-1 से की अपने नाम, 2015 के बाद इंग्लैंड की ऐसी हार

0
76


 मैनचेस्टर: ओल्ड ट्रैफर्ड के मैदान पर ऑस्ट्रेलिया और इग्लैंड के बीच खेले गए तीसरे वनडे में कंगारूओं ने वर्ल्ड चैंपियन को 3 विकेट से हरा दिया. 2015 के बाद यह पहला मौका है जब ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को उसी के घर में वनडे सीरीज में मात दी है. इसी जीत के साथ तीन मैचों की वनडे सीरीज को कंगारूओं ने 2-1 से अपने नाम कर लिया है. इस सीरीज का तीसरा और डिसाइडर मुकाबला किसी सस्पेंस और थ्रिलर फिल्म से कम नहीं था.

मैनचेस्टर में खेले गए इस मुकाबले में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. मेजबान टीम की शुरुआत बेहद खराब हुई, जेसन रॉय और रूट बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए. जिसके बाद जॉनी बेयरस्टो ने टीम को संभाला. कप्तान मोर्गन के साथ उन्होनें टीम के स्कोर को आगे बढ़ाया लेकिन मोर्गन भी 23 रन पर चलते बने. मोर्गन के बाद बेयरस्टो और बिलिंग्स के बीच 114 रन की पार्टनरशिप हुई और सलामी बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो ने अपना 10वां शतक पूरा किया. बेयरस्टो ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 112 रनों की पारी खेली, वहीं बिलिंग्स ने 57 रन बनाए. इसके अलावा आखिर में वोक्स ने 53 रन की नाबाद पारी खेली और इग्लैंड को 302 रनों के स्कोर तक पहुंचाया. ऑस्ट्रेलिया के लिए एडम ज़म्पा और मिशेल स्टार्क ने तीन-तीन विकेट चटकाए.

डेविड वॉर्नर, मिच मार्श और मार्नस लाबुशेन कुछ नहीं कर सके
ओल्ड ट्रैफर्ड के मैदान पर 303 रनों के लक्ष्य का पीछा करना किसी भी टीम के लिए बड़ी चुनौती है. ऑस्ट्रेलिया टीम बल्लेबाजी के लिए उतरी लेकिन पावरप्ले से पहले ही टीम ने अपने दो स्टार बल्लेबाज खो दिए. कप्तान फिंच 12 रन बना के आउट हुए तो वहीं स्टोइनिस 4 रन बना के पवेलियन लौट गए. देखते ही देखते ऑस्ट्रेलिया टीम के खिलाड़ी इंग्लिश गेंदबाजों के सामाने टिक नहीं पाए और मेहमान टीम ने 73 के स्कोर पर अपने पांच बल्लेबाजों को गंवा दिया. डेविड वॉर्नर, मिच मार्श और मार्नस लाबुशेन टीम के लिए कुछ नहीं कर सके.

मैक्सवेल और एलेक्स कैरी ने बदला मैच का रुख
इसके बाद ग्लेन मैक्सवेल और एलेक्स कैरी की एंट्री मैच में हुई. दोनों बल्लेबाजों ने मुकाबले का रुख ही पलट दिया. इन दोनों ने पांचवे विकेट के लिए 212 रनों पार्टनरशिप की. ग्लेन मैक्सवेल ने 90 गेंदों में 108 रनों की जोरदार पारी खेली वहीं एलेक्स कैरी ने करियर का पहला वनडे शतक लगाते हुए 114 गेंदों में 106 रन बनाए. मैच के आखिरी ओवर में ऑस्ट्रेलिया टीम ने बेहद रोमांचक तरीके से जीतते हुए सीरीज अपने नाम की. इंग्लैंड के लिए वोक्स और रूट ने दो-दो विकेट चटकाए.

 

बता दें कि ग्लेन मैक्सवेल ने वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 3000 रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया हैं, उन्होंने इंग्लैंड के जोस बटलर को 92 गेंद से पीछे छोड़ते हुए यह कीर्तिमान स्थापित किया.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here