मुंबई के पूर्व क्रिकेटर की कोरोना से मौत, लगातार 7 मैचों में लगाई थी 7 सेंचुरी

0
26


सांकेतिक तस्वीर (फोटो-AP)

Coronavirus: उनके एक करीबी दोस्त रमेश वाजगे ने बताया कि उनकी मौत हर किसी के लिए एक मैसेज है कि वो कोरोना वायरस को हल्के में न लें

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 17, 2020, 12:00 PM IST

मुंबई. मुंबई के पूर्व क्रिकेटर सचिन देशमुख (Sachin Deshmukh) की कोरोना वायरस (Coronavirus) से मौत हो गई है. ठाणे के वेदांत हॉस्पिटल में उन्होंने मंगलवार को आखिरी सांस ली. वो 52 साल के थे. उनके दोस्तों के मुताबिक उन्होंने अस्पताल में भर्ती होने से मना कर दिया था, जबकि उन्हें कई दिनों से बुखार था. 9 दिनों के बाद पता चला कि उन्हें कोरोना है. देशमुख एक शानदार क्रिकेटर थे. अपने जमाने में उन्हें मुंबई और महाराष्ट्र दोनों लिए रणजी टीम (Ranji Trophy) में जगह मिली थी. लेकिन प्लेइंग इलेवन में उन्हें मौका नहीं मिला था.

धमाकेदार बल्लेबाज़ थे देशमुख
अंग्रेजी अखबार द टाइम्स ऑफ इंडिया ने उनके दोस्त अभिजीत देशपांडे के हवाले से लिखा है कि सचिन देशमुख ने उनकी कप्तानी में साल 1986 के कूच विहार ट्रॉफी में धमाल मचा दिया था. पांच पारियों में उन्होंने 3 शतक लगाए थे, जिसमें 183, 130 और 110 की पारी शामिल है. अभिजीत ने उनके साथ स्कूली क्रिकेट खेली थी. देशमुख इन दिनों मुंबई में एक्साइज एंड कस्टम डिपार्टमेंट में सुपरिटेंडेंट के तौर पर काम करते थे.

7 मैचों में लगातार 7 शतक1990 के दौर में इंटर यूनिवर्सिटी टूर्नामेंट में सचिन देशमुख ने धमाल मचा दिया था. उन्होंने उस वक्त 7 मैचों में 7 शतक लगाने का अनोखा रिकॉर्ड बनाया था. वो मिडिल ऑर्डर के धमाकेदार बल्लेबाज़ थे. भारत के पूर्व विकेटकीपर माधव मंत्री के मुताबिक देशमुख एक बेहद प्रतिभाशालीऔर गिफ्टेड क्रिकेटर थे. उनके एक करीबी दोस्त रमेश वाजगे ने बताया कि उनकी मौत हर किसी के लिए एक मैसेज है कि वो कोरोना को हल्के में न लें. दरअसल देर से हॉस्पिटल में भर्ती होने के चलते देशमुख की मौत हो गई.

ये भी पढ़ें:-Australia Vs England: महज 73 के स्कोर पर आधी टीम आउट, फिर दो शतक ने ऑस्ट्रेलिया को दिला दी ऐतिहासिक जीत

कोरोना से लगातार मौत
महाराष्ट्र में कोविड-19 के 23,365 नए मामले सामने आने के बाद कुल संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर बुधवार को 11,21,221 हो गई.राज्य स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि इस बीमारी से 474 और लोगों की मौत हो गई, जिसके बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 30,883 हो गई है. वहीं, बुधवार को 17,559 लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी मिली, जिसके बाद स्वस्थ हुए लोगों की संख्या 7,92,832 हो गई. वहीं, अब राज्य में 2,97,125 लोगों का इलाज चल रहा है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here